Bhagalpur News:एनटीपीसी कहलगांव ने सोशल डिस्टेन्सिंग नियमों का अनुपालन करते हुए मनाया 36 वां स्थापना दिवस, समर्पण और दक्षता से एनटीपीसी और भी उॅंचे लक्ष्यों को करेगा हासिल – कार्यकारी निदेशक एनटीपीसी

ग्राम समाचार, भागलपुर। एनटीपीसी कहलगांव ने अपना 36 वां स्थापना दिवस समारोह शनिवार को सोशल डिस्टेन्सिंग नियम का अनुपालन करते कुछ कर्मियों के मौजूदगी में मनाया। प्रशासनिक भवन परिसर में आयोजित समारोह में एनटीपीसी ध्वजारोहण के पश्चात् नैगम गीत ‘’अंधकार की घोर निशा में ज्योति किरण बन कर हम छाये” गाया गया। इस अवसर पर चन्दन चक्रवर्ती, कार्यकारी निदेशक (कहलगांव एनटीपीसी) ने अपने संबोधन में कहा कि आज के ही दिन 23 मई 1984 को तत्कालीन मुख्यमंत्री बिहार स्वर्गीय चन्द्रशेखर सिंह द्वारा कहलगांव परियोजना की आधारशिला रखी गयी थी। आज सभी के अथक परिश्रम और संकल्प भाव के साथ हम नये इतिहास की ओर अग्रसर हैं। उन्होंने कहा कि कहलगांव स्टेशन द्वारा वर्ष 2019-20 के दौरान प्रचालन के क्षेत्र में 16504.37 एमयूएस रिकार्ड विद्युत उत्पादन किया गया जो आप सबों की कर्तव्य निष्ठा को दर्शाता है। उन्होनें प्लांट परिसर में सुरक्षा नियमों के अनुपालन को महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने बताया की कोरोना महामारी से बचाव के जरूरी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए अप्रैल 2020 में कहलगांव परियोजना ने पिछले वर्ष से बेहतर प्रदर्शन किया है जो गर्व की बात है। कार्यकारी निदेशक श्री चक्रवर्ती ने कहा कि  हम सभी इस समय एक वैश्विक महामारी का सामना कर रहे हैं, जो पूरी मानवता के लिए खतरा है। पूरी दुनिया इस समय एक मुश्किल दौर से गुजर रही है।  कोविड -19 कोरोना वायरस  महामारी के फैलाव को रोकन  हेतु एनटीपीसी सीएसआर के अन्तर्गत विशेष अभियान चलाकर  समीपवर्ती क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एडवायजरी का प्रचार प्रसार कर लोगों को जागरूक करने की साथ साथ ब्लीचिंग पाउडर का स्प्रे द्वारा सेनेटाईज कराते हुए नोज मास्क का वितरण कर रही है। इसके साथ समाज की वंचित विधवाओं व दिव्यांगजनों तथा असहाय जरूरतमंद परिवार को राशन किट वितरित कर रही है।
उन्होंने कहा कि आज के दौर में बिजली का महत्व और बढ़ गया है। आज देश के लगभग हर घर में बिजली की पहुंच है और यह एक बुनियादी जरूरत की तरह है। इसलिए, बिजली की पर्याप्त उपलब्धता अत्यंत आवश्यक है।  टीम एनटीपीसी कहलगांव द्वारा बिजली संयंत्रों में उत्पादन को बनाए रखने और राष्ट्र की मांगों को पूरा करने के लिए किया जा रहा कार्य समान रूप से प्रशंसनीय है। उन्होने कहा कि आज विद्युत क्षेत्र में तेजी से हो रहे बदलाव एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एनटीपीसी लिमिटेड को स्थापित करने में हम सभी को सामुहिक एवं व्यक्तिगत उत्कृष्ट कार्य निष्पादन करना है, क्योंकि हमारे सामने नई चुनौतियों के रूप में स्टेशन को उच्च स्तर की प्रचालन क्षमता को बनाये रखना है। मुझे  विश्वास है कि आपके समर्पण और दक्षता से हम आने वाले समय में और भी उॅंचे लक्ष्यों को प्राप्त करेंगे। कार्यकारी निदेशक कि एनटीपीसी कहलगांव द्वारा अपने नैगम सामाजिक दायित्व के अन्तर्गत विभिन्न गतिविधियां सम्पादित की गयी है। जैसे  परियोजना समीपवर्ती गावों में पेयजल की आपुर्ति हेतु हेन्ड पम्प (चापाकल ) लगाना, स्वच्छता के तहत सामुहिक व व्यक्तिगत  शौचालय का निर्माण, शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से  कर्मचारियों द्वारा गठित ई-व्वाइस एनजीओ  के माध्यम से समीपवर्ती 20 ग्रामों के स्कूलों के माध्यम से विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार की रोजगार परक शिक्षा जैसे कढ़ाई, बुनाई, सिलाई, कम्पयूटर, अगरबत्ती व जुट बैग निर्मित करने का प्रशिक्षण देकर उन्हें लाभान्वित किया गया है। परियोजना द्वारा समीपवर्ती क्षेत्र का संर्वागीण विकास हेतु विभिन्न कार्यक्रम संचालित किए गए है। जिससे ग्रामों को जोड़ने हेतु सड़को का निर्माण, विद्युत आपूर्ति हेतु सोलर स्ट्रीट लाईट व हाईमास्ट टावरों की स्थापना, जल निकासी हेतु नाले का निर्माण, सामुदायिक भवन स्कूल भवन व  चाहरदिवारी का निर्माण के साथ साथ सघन वृक्षारोपण कर पर्यावरण को स्वच्छ रखने में सहयोग दिया जा रहा है। जो एक सराहनीय कदम है। श्री चक्रवर्ती ने टीम कहलगांव के प्रत्येक सदस्य एवं सहयोगी एजेंसी के साथ साथ सीआईएसएफ, जिला प्रशासन, अनुमंडल प्रशासन, सामाजिक संगठन, यूनियन एवं एसोशियेशन से मिले निरंतर सहयोग एवं योगदान की सराहना की। इस अवसर पर सी.के.कुशारी, महाप्रबंधक (ओएण्डएम), नीरज कपुर महाप्रबंधक (ईंधन प्रबंधन), सी.कुमार, महाप्रबंधक (मानव संसाधन), विपूल चक्रवर्ती, महाप्रबंधक (अनुरक्षण), यूनियन एवं एसोशियेशन के सदस्य मौजूद थे।



Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें