Rewari News : IGU में मूक एवं मूडल आधारित सात दिवसीय फैकल्टी विकास कार्यक्रम का आरंभ



आईजीयू मीरपुर में आयोजित सात दिवसीय सेमिनार में व्याख्यान देते हुए अतिथि। 
ग्राम समाचार न्यूज़ : रेवाड़ी : इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय मीरपुर में मंगलवार से MOOCs एवं MOODLE आधारित सात दिवसीय फैकल्टी विकास कार्यक्रम का आरंभ हो गया है|  इसमें शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के राष्ट्रीय सचिव अतुल कोठारी मुख्य अतिथि रहेउन्होंने वर्तमान शिक्षा प्रणाली में अवसर एवं चुनौतियां विषय पर विस्तार से व्याख्यान दियाउन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यदि आधुनिक शिक्षा प्रणाली आज के युग की आवश्यकता है तो प्राचीन शिक्षा प्रणाली हमारे संस्कारों की जड़ों के साथ जुड़ी हुई हैंइस कारण यह दोनों परस्पर एक दूसरे के विरोधी ना होकर एक दूसरे के पूरक हैंउन्होंने कोविड के खतरे को देखते हुए विद्यार्थियों को किस प्रकार से तनाव मुक्त एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रखा जा सके, इस पर विस्तार से बतायाएसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटी की सचिव एवं भगत फल सिंह महिला विश्वविद्यालय खानपुर की पूर्व कुलपति डॉ पंकज मित्तल इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता रहीउन्होंने ऑनलाइन संसाधनों का प्रयोग करते हुए मूक (MOOCs) कोर्स को किस प्रकार से विकसित किया जाए और किस प्रकार से विभिन्न विश्वविद्यालयों के द्वारा इसे लागू किया जा सकता है, किस प्रकार से इनमें ग्रेडिंग दी जाती हैं  और विद्यार्थियों का मूल्यांकन कार्य किया जा सकता है, इस पर बड़े विस्तार से बताएंकार्यक्रम की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एसके गक्खड़ ने कीउन्होंने दोनों अतिथियों का स्वागत कियाउन्होंने कहा कि अवसर एवं चुनौतियां बदलते वातावरण के साथ साथ चलते हैंकोविड-19 के खतरे ने जहां एक तरफ बहुत सारी चुनौतियां पैदा की है वहीं अनेक अवसर भी पैदा किए हैं आज आवश्यकता है, अपने आप को इस के बदलते हुए पर्यावरण के अनुरूप ढाल लेने कीविश्वविद्यालय के लिए यह बड़े गर्व का विषय है कि इसमें देश भर के 428 शिक्षक भाग ले रहे हैंजिसमें से 94 शिक्षक इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय से हैं जबकि 334 लोग विभिन्न कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों से हैंलगभग 200 लोग हरियाणा से बाहर के हैं| 10 प्रतिभागी पूर्वोत्तर भारत से, 13 तेलंगाना से, 7 तमिलनाडु से, 11 महाराष्ट्र से, 16 कर्नाटक और केरल से, 15 जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश से हैंइस प्रकार देश के सभी कोनों से लोग इसमें भाग ले रहे हैI मुझे पूर्ण विश्वास है कि यह फैकल्टी विकास कार्यक्रम इन सभी की अपेक्षाओं के अनुरूप होगा और आने वाले समय में कोविड की समस्या से कुशल ढंग से निपटते हुए उन्हें अपना शिक्षण कार्य प्रभावी ढंग से पूर्ण करने में मददगार साबित होगाविश्वविद्यालय की कुलसचिव डॉ अन्नपूर्णा शर्मा ने सभी मेहमानों का धन्यवाद किया| उन्होंने कहा कि आज इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन में पहल करने के कारण इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय की पहचान देशभर में हो रही है जो हम सब के लिए अत्यंत गर्व का विषय हैयह कार्यक्रम वाणिज्य विभाग के अध्यक्ष प्रोफ़ेसर तेज सिंह की अध्यक्षता में किया जा रहा है जबकि प्रबंधन विभाग से डॉ भारती एवं सुशांत यादव आयोजक सचिव की भूमिका निभा रहे हैं|
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरियाणा) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें