Rewari News : तिरंगा डिजाइनर पिंगली वेंकैया की जयंती पर गर्ल्स स्कूल में कार्यक्रम आयोजित

रेवाड़ी 2 अगस्त हर घर तिरंगा अभियान के तहत डीसी अशोक कुमार गर्ग के मार्गदर्शन में रेवाड़ी में देश के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के डिजाइनर स्वर्गीय श्री पिंगली वेंकैया की जयंती पर मंगलवार को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेवाड़ी, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कुंड व झाड़ौदा सहित अन्य विद्यालयों में कार्यक्रमों का आयोजन कर स्वर्गीय श्री पिंगली वेंकैया को श्रद्धांजलि अर्पित कर याद किया गया।



राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेवाड़ी में आयोजित कार्यक्रम में एडीसी स्वप्निल रविंद्र पाटिल ने बतौर मुख्य अतिथि विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि देश की आजादी में श्री पिंगली वेंकैया का अहम योगदान हैै, जिन्होंने देश को तिरंगा दिया।  आजादी के अमृत महोत्सव पर केंद्र सरकार की ओर से इस वर्ष हर घर तिरंगा अभियान चलाने का निर्णय लिया गया है, जिसके तहत सभी नागरिकों को 13 से 15 अगस्त के बीच अपने-अपने घर पर तिरंगा लगाने का आह्वान किया गया है। तिरंगा देश की आन-बान-शान का प्रतीक है। उन्होंने विद्यार्थियों व आमजन से आह्वान किया कि वे आने वाली 13 अगस्त से 15 अगस्त तक अपने-अपने घरों पर तिरंगा फहराने का संकल्प लें और इस जन आंदोलन में भागीदार बनें। उन्होंने कहा कि यह अभियान हमारा तिरंगा के साथ जुड़ाव को और अधिक गहरा करेगा।



*स्वतंत्रता सेनानी पिंगली वेंकैया ने डिजाइन किया था तिरंगा : एडीसी*

एडीसी ने कहा कि स्वर्गीय श्री पिंगली वेंकैया का देश की आजादी में बड़ा योगदान हैै। श्री पिंगली वेंकैया एक महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे। उनका जन्म 2 अगस्त, 1876 को आंध्र प्रदेश के एक तेलुगु ब्राह्मण परिवार में हुआ था। श्री पिंगली वेंकैया ने 1916 के बाद करीब 5 सालों के अध्ययन के बाद तिरंगे को डिजाइन किया था। देश की आजादी से कुछ दिनों पहले 22 जुलाई 1947 के दिन तिरंगे को आधिकारिक तौर पर फहराया गया था। इसमें तीन रंग थे केसरिया, सफेद और हरा। तिरंगे में अशोक चक्र लगाया गया, जो आजतक चल रहा है। झंडे को इस्तेमाल करने और फहराने को लेकर एंबलम एंड नेम प्रिवेंशन ऑफ प्रॉपर यूज एक्ट 1950 बनाया गया था। तिरंगे को श्री पिंगली वेंकैया ने डिजाइन किया था।



*तिरंगे के तीन रंगों का है विशेष महत्व :*

भारत देश के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा में मौजूद रंगों का अपना विशेष महत्व है। केसरिया रंग साहस और बलिदान का प्रतीक माना जाता है। सफेद रंग शांति और सच्चाई का प्रतीक है, जबकि हरा रंग संपन्नता का प्रतीक होता है। वहीं अशोक चक्र धर्म चक्र का प्रतीक है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education