Bounsi News: विद्यालय में फर्नीचर नहीं होने के कारण छात्राऐं जमीन पर बैठकर पढ़ने को विवश

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। बौंसी प्रखंड स्थित एलएनटी प्लस टू प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय में फर्नीचर नहीं होने के कारण छात्राएं जमीन पर बैठकर पढ़ने को विवश हैं। बताते चलें कि, एक ओर सरकार जहां आधी आबादी को आरक्षण देकर ऊपर उठाने का कार्य कर रही है। बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं बौंसी बाजार स्थित एकमात्र कन्या प्रोजेक्ट प्लस टू विद्यालय की छात्राएं जमीन पर बैठकर पढ़ने और परीक्षा देने को विवश हैं। बौंसी बाजार के दुमका रोड में 15 अगस्त 1983 से अवस्थित लक्ष्मी नारायण डांडे वाला प्रोजेक्ट प्लस टू बालिका उच्च विद्यालय यहां के जनप्रतिनिधियों सहित समाजसेवियों के साथ-साथ प्रशासनिक पदाधिकारियों को भी उम्मीद भरी निगाहों से देख रहा है। बताया जाता है कि, 1983 में यहां पर स्थानीय लक्ष्मीनारायण डांडे वाला ने जमीन दान में देकर कन्या शिक्षा को बढ़ावा देने का कार्य 




किया था। पूर्व में विद्यालय एक धर्मशाला में चल रहा था। जबकि आधारभूत संरचना योजना के बाद 24 नवंबर 2021 में विद्यालय दो मंजिला बनकर तैयार हो जाने के बाद छात्राएं इस विद्यालय में शिफ्ट हो गई। करीब एक दर्जन कमरे, शौचालय, लाइब्रेरी सहित अन्य कमरे बनने के बावजूद भी विद्यालय को फर्नीचर नहीं रहने के कारण छात्राएं जमीन पर पढ़ाई करने को विवश है। वहीं जानकारी देते हुए विद्यालय की प्रधानाध्यापिका डॉक्टर सरिता कुमारी ने बताया कि, स्कूल में नवम, दशम, इंटर, आर्ट्स और विज्ञान संकाय को मिलाकर करीब 1400 छात्राएं यहां पर नामांकित है। जिसके लिए अतिथि शिक्षकों को मिलाकर मात्र 10 शिक्षक कार्यरत हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि, यहां पर बैंच डेस्क की कमी है। इसके लिए कई बार उन्होंने आवेदन विधायक दिया है। बावजूद इसके अभी तक इस पर कोई भी कार्यवाही नहीं हो पाई है। साथ ही उन्होंने बताया कि, विद्यालय सड़क किनारे होने से विद्यालय में सीसीटीवी कैमरे की आवश्यकता है और विद्यालय में चारदीवारी करवाने की भी आवश्यकता है। 

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education