Bounsi News: हुल क्रांति दिवस का किया गया आयोजन

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। बौंसी प्रखंड क्षेत्र के बौंसी-हंसडीहा मुख्य मार्ग पर स्थित शिव पार्वती धाम, सांझोतरी में हुल क्रांति दिवस का आयोजन किया गया। कटोरिया विधानसभा के पूर्व विधायक सोनेलाल हेंब्रम और कार्यक्रम के अध्यक्ष सह प्रखंड प्रमुख बिरसा सोरेन ने संयुक्त रूप से अमर शहीद सिद्धू कान्हु के चित्र के सामने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। साथ ही श्रद्धा सुमन अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर पूर्व विधायक ने कहा कि देश की आजादी में आदिवासी योद्धाओं का अभूतपूर्व योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि जिस दिन झारखंड के आदिवासियों ने अंग्रेजों के खिलाफ हथियार उठाकर उनके समक्ष युद्ध का ऐलान किया यानी विद्रोह किया उसी दिन को हुल क्रांति दिवस के रूप में मनाया जाता है। 1857 से पहले 1855 में ही विद्रोह का झंडा सिद्धू और कान्हु की अगुवाई में आरंभ किया गया था। इसके पूर्व 


पारंपरिक आदिवासी सामूहिक नृत्य के साथ मुख्य अतिथि के रूप में आये पूर्व विधायक सहित प्रखंड के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य सहित अन्य जनप्रतिनिधियों का स्वागत किया गया। दीप प्रज्वलन के बाद अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। आदिवासी छात्राओं के द्वारा पारंपरिक आदिवासी नृत्य की प्रस्तुति भी की गयी। कार्यक्रम को प्रमुख के अलावे मुखिया संघ अध्यक्ष हरिहर यादव, मुखिया पति हरीकिशोर गंधर्व, भाजपा जिला उपाध्यक्ष विक्की मिश्रा, प्रखंड अध्यक्ष पूरन लाल ढुड्ड, कटोरिया विधानसभा के विधायक पति रमेश हेंब्रम सहित अन्य ने संबोधित किया। इस मौके पर मंच संचालन का कार्य गंगाराम टुड्डू के द्वारा किया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से पंचायत समिति सदस्य धर्मेंद्र पासवान, लक्ष्मण यादव, मोहम्मद फखरुद्दीन, शशि भूषण यादव, मुकेश पासवान, भाजपा के अवधेश मिश्रा, मोहम्मद कैफ सहित भारी संख्या में आदिवासी समाज के महिला-पुरुष मौजूद थे. आदिवासी एभेन मंच के बैनर तले कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। 

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education