Bounsi News: बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मनाई गई 131 वीं जयंती

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। बौंसी प्रखंड स्थित तकनीकी कौशल विकास केंद्र, एंजेल कंप्यूटर एजुकेशन सेंटर के प्रांगण में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की 131 वीं जयंती मनाई गई। इस मौके पर संस्थान के डायरेक्टर कुमार चंदन एवं छात्र-छात्राओं के द्वारा बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर संस्थान के डायरेक्टर ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि, डॉ. भीमराव अम्बेडकर को हम देश के संविधान के पितामाह के रूप में याद करते है। उनका जन्म 14 अप्रैल, 1891 मध्यप्रदेश के महू जिले में हुआ था। इनके पिता रामजी मोलाजी और माता भीमाबाई सकपाल थी। बचपन में ही इन्होने जातिवाद का दंश झेला था जिसका इनके जीवन पर 

गहरा असर रहा था। इसके बाद इन्होने जीवन भर जातिवाद से लड़ने और दलितों के उत्थान का बीड़ा उठा लिया था। इनकी की प्रारंभिक शिक्षा गाँव में जबकि उच्च शिक्षा मुंबई में पूरी हुयी है। बचपन से ही होशियार रहने के कारण इन्हे उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने के लिए स्कालरशिप भी मिली थी जहाँ से शिक्षा पूरी करने के पश्चात ये देश वापस लौट गए।डॉ. अम्बेडकर द्वारा दिखाई मार्ग पर चले ताकि देश में अशिक्षा, निर्धनता, और छुआछूत जैसी समस्याओं को खत्म किया जा सके। यही हमारी बाबा साहेब की सच्ची श्रद्धाजलि होगी। इस अवसर पर आकाश कुमार गुप्ता,अभिषेक कुमार बच्चन,अजीत कुमार, अंजली कुमारी, दानिश अली, गीता हांसदा, मोनू कुमार, पावरित कुमार, पूजा कुमारी, रौनक परवीन, रेखा हांसदा, रीना कुमारी, रितु कुमारी सहित दर्जनों छात्र-छात्राएं मौजूद थे। 

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education