Rewari News : खोल थाना पुलिस ने सुलझाई नाबालिग के लापता होने की गुत्थी, पुलिस ने नाबालिग को वन स्टाप सेंटर भेजा

पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार के मार्गदर्शन में खोल थाना क्षेत्र के एक गांव से नाबालिग के लापता होने का मामले गुत्थी सुलझाते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में पिता-पुत्र शामिल है। पुलिस ने लापता नाबालिग को भी बरामद कर लिया है। पुलिस लंबे समय से नाबालिग की तलाश कर रही थी। इस मामले में पुलिस एक आरोपी को पहले भी गिरफ़्तार कर चुकी है।

खोल थाना क्षेत्र के एक गांव से 10 अक्टूबर को नाबालिग लापता हो गई थी। परिजनों ने 11 अक्टूबर को पुलिस को शिकायत देकर उनके यहां जेसीबी चालक राहुल पर अपहरण करने का आरोप लगाया था। नाबालिग के लापता होने के बाद परिजनों को पता चला था कि युवक नाम बदलकर उनके यहां रह रहा था तथा दूसरे सम्प्रदाय का है। परिजनों ने युवक पर लव जिहाद का भी आरोप लगाया था। दोनों की तलाश के लिए गठित की गई विशेष जांच टीम व अपराध अनुसंधान शाखा रेवाड़ी टीम ने आरोपी को गुजरात के सूरत शहर से पकड़ लिया था। आरोपी से पूछताछ के बाद सामने आया था कि आरोपी का सही नाम मोहम्मद रिजवान है। आरोपी फिरोजपुर झिरका के गांव पपडवास का रहने वाला था। रिजवान से रिमांड के दौरान पूछताछ के बाद भी नाबालिग का सुराग नहीं लग पाया था।

नानी के पास फोन किया तो पहुंची पुलिस:

नाबालिग ने बुधवार अपनी नानी के पास फोन कर बात की थी। पुलिस ने फोन की लोकेशन के अनुसार दबिश देकर नाबालिग को बावल के गांव प्राणपुरा-पावटी के निकट स्थित खेतों से बरामद कर लिया। पुलिस ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म व अपहरण के आरोप में उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ निवासी एक युवक व उसके पिता को भी गिरफ़्तार कर लिया।

पूछताछ में पता लगा कि दस अक्टूबर 2020 को नाबालिग को उसके परिवार के लोगों ने किसी बात को लेकर उसकी पिटाई कर दी थी। पिटाई करने से नाबालिग किसी को कुछ भी बताए बिना घर से चली गई थी और बास दूदा में ही रह कर खेतों सब्जी उगाने का काम करने वाले अलीगढ़ निवासी परिवार के पास चली गई थी। युवक के माता-पिता ने तीन दिन तक नाबालिग को वहीं छिपा कर रखा था। नाबालिग ने अलीगढ़ निवासी युवक के मोबाइल से रिजवान को फोन भी किया था, जिसके बाद पुलिस जांच के लिए मौके पर भी पहुंची थी, लेकिन युवक व उसके परिवार ने बताया था कि नाबालिग उनके पास आई थी और फोन करने के बाद हाईवे की तरफ चली गई थी। परिवार के लोगों ने पुलिस को गुमराह करते हुए बताया था कि नाबालिग किसी वाहन में बैठ कर गई है।

कुछ समय बाद नाबालिग को युवक के साथ उत्तर प्रदेश के खुर्जा में भेज दिया था। युवक व नाबालिग के जाने के बाद उसके माता-पिता भी बास दूदा गांव छोड़ कर चले गए थे। उसके बाद से सभी कभी महम तो कभी खुर्जा में जगह बदल-बदल कर खेतों में ही रहते रहे। बुधवार को नाबालिग ने युवक के मोबाइल से अपनी नानी के पास फोन किया था। नाबालिग की कॉल आने की जानकारी आने के बाद पुलिस की टीम ने गांव प्राणपुरा-पावटी स्थित खेतों से उसे बरामद कर लिया और आरोपी युवक व उसके पिता को गिरफ़्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश करके आरोपी युवक का दो दिन का रिमांड लिया है तथा उसके पिता को न्यायोक हिरासत में भेजा गया। पुलिस ने नाबालिग के बयान दर्ज कराने के बाद वन स्टाप सेंटर में भेज दिया है।

 

कंपनी कर्मचारी से नकदी छीनने के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार

बावल के गांव किशनपुर में ड्यूटी से लौट रहे एक कंपनी कर्मचारी से नकदी छीनने का प्रयास करने व जातिसूचक शब्द बोलने के आरोपी को बावल थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए आरोपी की पहचान गांव किशनपुर निवासी करण सिंह उर्फ काला के रूप में हुई है।

जांचकर्ता ने बताया कि किशनपुर निवासी वेद प्रकाश बावल स्थित एक कंपनी में कार्यरत है। मंगलवार की रात करीब 11 बजे वह कंपनी से वापस लौट रहे थे। गांव के बस स्टॉप पर कंपनी की बस से उतरने के बाद वह गांव की फिरनी से अपने घर जा रहा था। रास्ते में अचानक एक पेड़ के पास गांव निवासी करण सिंह ने पीछे से पकड़ लिया और जेब में रखी 15 हजार रुपये की नकदी छीनने का प्रयास किया। वेद प्रकाश ने विरोध किया तो जातिसूचक शब्द बोलने लगा। वेद प्रकाश ने आरोपी को पहचान लिया तो वह छुड़ा कर भाग गया। वेदप्रकाश ने घटना की सूचना अपने परिजनों व डायल-112 पर दी। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। बावल थाना पुलिस वेद प्रकाश की शिकायत पर आरोपी के करण सिंह के खिलाफ नकदी छीनने का प्रयास करने व एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर बुधवार की शाम को गिरफ्तार कर लिया।

 

एएसपी पूनम दलाल दहिया ने अहीर कॉलेज में महिला सुरक्षा के प्रति छात्राओं को किया जागरूकता

कालेज में छात्राओं को सिखाए आत्मरक्षा के गुर

स्थानीय अहीर महाविद्यालय में महिला प्रकोष्ठ इकाई द्वारा आयोजित आत्मरक्षा शिविर का शुभारंभ अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पूनम दलाल दहिया ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कालेज के प्राचार्य प्रो. हंसराज यादव ने की। अहीर कॉलेज में छात्र कलाकारों ने स्वागत गीत की प्रस्तुति देकर मुख्य अतिथि का स्वागत किया।

मुख्य अतिथि एएसपी पूनम दलाल दहिया ने कहा कि बेटियां देश का गौरव हैमान है। बेटियों को स्वयं से सशक्त बनाने की जरूरत है। बेटियां हर क्षेत्र में अपनी योग्यता व क्षमता से स्थान प्राप्त कर रही है। कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम मे एएसपी ने छात्राओं को महिलाओं से संबंधित अपराधों के बारे में जागरूक करते हुए कहा कि किसी भी अपराध के घटित होने पर पीड़ित के चुप रहने से अपराध और अपराधी का हौसला दोनो बढ़ते है। हर महिला को पता होना चाहिए कि अपराध क्या है और हर अपराध की रिपोर्ट कहाकैसे करे। छात्रों व छात्राओं को सम्बोधित करते हुए एएसपी ने आगे कहा कि समाज को महिलाओं के प्रति मानसिकता बदलने की जरूरत हैमानसिकता बदलने से ही देश तरक्की करेगा। छोटी-छोटी बातों पर फैसला लेना सीखें। जब तक नारी मन और शरीर से मजबूत नहीं होगीसशक्त होना संभव नहीं। माता-पिता अपने बच्चों को अच्छे संस्कार दें ताकि बच्चे महिलाओं का सम्मान करना सीखें। महिलाओं को अपने अधिकारों की जानकारी होना बहुत जरूरी है अगर महिलाएं जागरूक होगी तो किसी प्रकार की आपराधिक घटना की सूचना तुरन्त पुलिस को देंगी तो महिला विरुद्ध अपराधों में कमी आएगी और अपराधियों को सजा भी दिलवाई जा सकेगी।   

इसके साथ-साथ उन्होंने छात्राओं को उनके अधिकारोंकर्तव्योंव हरियाणा पुलिस द्वारा शुरू की गई महिला सुरक्षा सेवाएं जैसे दुर्गा शक्ति मोबाइल एप्पमहिला हेल्पलाइन नंबर 1091आपातकालीन नंबर 112बाल सहायता नंबर 1098, CWC की महत्वता तथा साथ ही प्रत्येक जिले में महिला पुलिस थानाआदि बारे भी अवगत करवाया। एएसपी की टीम ने छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर भी सिखाए कि किस प्रकार विषम परिस्थितियों में अपनी सुरक्षा कर सकती है।  

एएसपी की टीम ने छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर भी सिखाए कि किस प्रकार विषम परिस्थितियों में अपनी सुरक्षा कर सकती है।

प्राचार्य प्रो. हंसराज यादव ने विद्यार्थियों को आत्मरक्षा के महत्व से अवगत कराया और मुख्य अतिथि एएसपी पूनम दलाल को स्मृति चिन्ह देकर आत्मरक्षा का कार्यक्रम आयोजित करने पर धन्यवाद किया। महिला प्रकोष्ठ प्रभारी प्रो. संगीता राव ने मंच संचालन करते हुए सभी का आभार जताया। कार्यक्रम में महिला थाना प्रभारी अनीतादुर्गा शक्ति टीम इंचार्ज एएसआई प्रवीण कुमारी व कॉलेज का स्टाफ मौजूद रहे।

 

आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में जिला रेवाड़ी पुलिस द्वारा बोडिया कमालपुर स्कूल परिसर में किया जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुमार के निर्देशन में जिला रेवाड़ी पुलिस द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में चलाए जा रहे साप्ताहिक जागरूकता अभियान के पांचवे दिन थाना सदर रेवाड़ी के अंतर्गत गांव बोडिया कमालपुर स्कूल परिसर में छात्र-छात्राओं को ट्रैफिक नियम, साइबर क्राईम नशा खोरी व  महिला सुरक्षा के संबंध में जागरूक किया गया।

इस अवसर पर थाना सदर रेवाड़ी प्रबंधक श्री जीतेंद्र कुमार ने छात्र-छात्राओं को ट्रैफिक नियम के बारे में समझाया तथा नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित किया । उन्होंने छात्रों को समझाया की नशाखोरी से दूर रहे क्यूंकि नशा इंसान को शारीरिक व मानसिक रूप से कमजोर बनाता है। इसके अलावा उन्होंने कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के खतरे के चलते हरियाणा सरकार द्वारा चलाए जा रहे महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा अभियान के तहत आमजन को मास्क का इस्तेमाल करने तथा सामाजिक दुरी का पालन करने के निर्देश दिए।   

पुलिस अधीक्षक कार्यालय की साइबर सेल इंचार्ज एएसआई अरुण  ने छात्र-छात्राओं को साईबर अपराध का शिकार होने से बचने के लिए सुझाव देते हुए कहा किसी भी माध्यम (इंटरनेट व मोबाइल द्वारा) से दिये हुए लालच मे ना आए और कोई भी अनजान वेबसाइट व अन्य लिंक पर क्लिक ना करे तथा अपने अकाउंटओ.टी.पी व पासवर्ड की जानकारी किसी को न दें।

        इस असवर पर प्रबंधक थाना सदर इंस्पेक्टर जितेंद्र, एसआई सुमित, सायबर सेल इंचार्ज एएसआई अरुणमहिला सिपाही मनीषा सहित पुलिस कर्मचारी व समस्त स्कूल स्टाफ उपस्थित थे।   

 

आटो में सामान चोरी करने वाली महिला को पुलिस ने किया गिरफ़्तार, पुलिस ने चोरी किये गए आर्टिफिशियल गहने किये बरामद


रेलवे स्टेशन से ऑटो में बस स्टैंड आ रही महिला के बैग से गहने चोरी करने के मामले में पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार की गई महिला की पहचान उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद के गांव निडोरी हाल हापुड़ निवासी पूनम के रूप में हुई है। पुलिस ने महिला के बैग से चोरी किए गए गहने बरामद कर लिए। महिला के बैग से चोरी किए गए गहने आर्टिफिशियल थे।

जांच अधिकारी ने बताया कि गाजियाबाद के गोविंदपुरी मोदीनगर निवासी राजकुमारी रेलवे स्टेशन बस स्टैंड आने के लिए ऑटो में सवार हुई थी। महिला ने बैग भी ऑटो में रखा हुआ था। राजकुमारी के साथ ऑटो में एक महिला व तीन और युवक भी सवार हुए थे। धारूहेड़ा चुंगी के निकट साथ बैठी महिला ने राजकुमारी का बैग खोल कर उसमें रखे आर्टिफिशियल गहने चोरी कर लिए। इसी दौरान राजकुमारी ने महिला को चोरी करते हुए मौके पर पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद जगन गेट चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। पकड़ी गई महिला की पहचान उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद के गांव निडोरी हाल हापुड़ निवासी पूनम के रूप में हुई। पुलिस ने तलाशी के दौरान चोरी किए गए आर्टिफिशियल गहने बरामद कर लिए। पुलिस ने पीड़ित महिला राजकुमारी शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज कर आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने पूछताछ के लिए आरोपी महिला को अदालत से रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान महिला के अन्य साथियों के बारे में पूछताछ की जायेगी।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education