Chandan News: एंबुलेंस से मासूम छात्र का शव पहुंचते ही परिजनों में मचा कोहराम

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। आनंदपुर ओपी क्षेत्र के दक्षिणी बारने पंचायत अंतर्गत बाराकोला गांव से एक दुखद घटना तब देखा गया जब एक एंबुलेंस से मासूम बच्चा का शव उसके ही पिता ने बाहर निकाला। प्राप्त जानकारी के अनुसार बाराकोला गांव निवासी दिलिप यादव का दो पुत्र एवं एक पुत्री में छोटा पुत्र 12 वर्षीय रोहित कुमार कुछ दिन से मानसिक बीमारी में चल रहा था। जिसे लेकर इलाज चल रही थी। लेकिन कुछ हालत ज्यादा खराब होने के कारण बेहतर इलाज हेतु शुक्रवार 25 फरवरी को पटना के इंदिरा इंस्टिट्यूट अस्पताल ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान आज रविवार 27 फरवरी सुबह 7:00 बजे के करीब दम तोड़ दिया। परिवारिक सूत्रों के अनुसार छात्र रोहित कुमार जो अभी छठी 

क्लास में पढ़ रहा था। डॉक्टरों के मुताबिक रोहित कुमार बाल अवस्था में गिर जाने के कारण माथे का नस फट गया था। जिसे लेकर मृत रोहित कुमार ब्रेन हेमरेज होने की शिकार हो गया। जो आज इलाज के दौरान लड़ते लड़ते जंग हार गया। जिसे लेकर परिजनों ने मृत रोहित कुमार का शव पटना से एंबुलेंस के द्वारा घर पहुंचा कर अंतिम संस्कार कर दिया। इधर छात्र रोहित की मौत की घटना पर परिजनों के साथ साथ गांव के लोगों में मायूसी छा गई। मृत शव को देखते ही बड़ा भाई रंजीत कुमार बहन शिखा कुमारी मां राजकुमारी देवी, एवं दादी आदि परिजन रो रो कर बुरा हाल है। रोहित कुमार को आकस्मिक मौत से परिवार के लोग सदमे में है।  मृत शव को एक झलक देखने के लिए सेंकड़ों लोग इकट्ठे हो गए, देखते ही सबों के आंखों में आंसू निकल आए। मृत रोहित का शव देखकर मां राजकुमारी देवी, पिता दिलीप यादव, एवं बहन शिखा कुमारी बार बार बेहोश हो रहे थे। इस घटना से आहत चाचा अशोक यादव चुनचुन यादव आदि परिजन सदमे में है।

उमाकान्त साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education