Rewari News : बैंक खाते खुलवाकर उनका साईबर धोखाधड़ी में इस्तेमाल करने के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

रेवाड़ी की साइबर क्राइम थाना पुलिस ने धोखाधड़ी के एक ऐसे अंतर्राजीय गिरोह का पर्दाफाश करने में सफलता हासिल की है जो बैंक खाते बेचकर ठगी की वारदात को अंजाम देते थे। साइबर क्राइम थाना पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पकडे गए आरोपी पीजी में रह रही निजी कंपनी में काम करने वाली भोली भाली लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर उनकी बैंक किट को अपने पते पर मंगवाकर उनके बैंक खातों, चैक बुक और एटीएम आदि का इस्तेमाल धोखाधड़ी करने में करते थे। इस धोखाधड़ी का खुलासा तब हुआ जब एक लड़की की मेल आईडी पर ट्रांजिक्शन का मैसेज आया। गिरफ्तार किये गए आरोपियों ने 31 वारदातें कबूल की। रविवार को डीएसपी अमित भाटिया ने साइबर थाना में प्रैस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी।  



डीएसपी अमित भाटिया ने बताया कि साईबर थाना साऊथ रेंज रेवाड़ी पुलिस की टीम ने पीजी में रहने वाली लड़कियों के बैंक में खाते खुलवाकर उनका साईबर धोखाधड़ी में इस्तेमाल करने के मामले में कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान रेवाड़ी के बोलनी निवासी हितेश सोनी व गुरुग्राम के तुर्कपुर निवासी रोहित उर्फ मोनू व नूंह जिले के गांव जाफराबाद निवासी ईनाम उर्फ इक्का के रूप में हुई है। उन्होंने बतलाया कि साईबर थाना साउथ रेंज रेवाड़ी मे पीजी मे रहने वाली एक युवती ने शिकायत दी थी कि वह राजेश पाइलेट चौक स्थित एक पीजी में रहती है तथा बावल स्थित एक कम्पनी में काम करती है। पीजी के मालिक हितेश सोनी ने उसकी व पीजी में रहने वाली दूसरी लड़कियों के एचडीएफसी बैंक में खाते खुलवा दिए लेकिन उन्हें नए खुले खातों की किट नही दी। किट मांगने पर पीजी मालिक हितेश ने उन्हें आश्वासन दिया कि जल्द ही उनको उनके नए खुले खातों की किट मिल जाएगी। इसके बाद उनकी मेल पर नए अकाउंट में कुल 1, 20, 000/- रूपए क्रेडिट व डेबिट होने का मैसेज आया। जिसे देखकर उसे संदेह हुआ की उन्होंने कोई पैसे  डाले  निकलवाए फिर ये डेबिट क्रेडिट के मैसेज क्यों आ रहे है। कही नए खोले गए खातों का साईबर धोखाधडी में इस्तेमाल तो नहीं किया जा रहा हैं। जिसकी शिकायत उसने पुलिस को दी। पुलिस ने पीड़ित लड़की की शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान साईबर थाना साऊथ रेंज रेवाड़ी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पीजी के मालिक आरोपी हितेश सोनी पुत्र राम किशन निवासी बोलनी जिला रेवाड़ी व रोहित उर्फ मोनू पुत्र रतिराम निवासी तुर्कपुर जिला गुरुग्राम को गिरफ्तार करके गहनता से पूछताछ की। पूछताछ में एक के बाद एक कड़िया जुड़ती चली गई और सामने आया कि हितेश सोनी ने रोहित उर्फ मोनु की मदद से पीजी मे रहने वाली लड़कियों के खाते खुलवाकर सभी बैंक खातों की किट ईनाम उर्फ इक्का को बेची थी। इसके बाद पुलिस ने दबिश देकर ईनाम उर्फ इक्का पुत्र शाहिद निवासी गांव जाफराबाद जिला नूंह को गिरफ्तार कर लिया है। जांच के दौरान पुलिस ने आरोपी रोहित उर्फ मोनु से ईनाम उर्फ इक्का को बेची गई बैंक खातों की किट के फ्रॉड के 15,000/- रुपए, हितेश सोनी से कुल 4500/- बरामद किए हैं। इसके अलावा पुलिस ने धोखाधड़ी मे इस्तेमाल हुए 45000/- रुपए ईनाम उर्फ इक्का के खाते मे फ्रीज़ कर दिये है। उप पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मामले में पुलिस गहनता से जांच कर रही है तथा मामले में संलिप्त सभी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। डीएसपी अमित भाटिया ने कहा कि जिस तरह आरोपियों द्वारा बैकं कीटस का इस्तेमाल कर धोखाधड़ी की जा रही थी उससे इंकार नहीं किया जा सकता है कि यह कोई अंतराजीय गिरोह है। फ़िलहाल पुलिस को इस गिरोह के मास्टर माइंड और गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों की तलाश है जिन लोगो तक ईनाम के रिमांड हासिल करने के बाद ही पहुंचा जा सकता है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education