Godda News: वित्तीय वर्ष 2021/22 के लिए 175000 क्विंटल धान अधिप्राप्ति का लक्ष्य



ग्राम समाचार, गोड्डा ब्यूरो रिपोर्ट:- आज दिनांक 07.01.2022 को उपायुक्त भोर सिंह यादव की अध्यक्षता में कृषि पशुपालन एवं सहकारिता विभाग( सहकारिता प्रभाग) गोड्डा के अंतर्गत चलाए जा रहे योजनाओं एवं कार्यों से संबंधित समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई ।वीडियो कांफ्रेंसिंग में माननीय विधायक महागामा विधानसभा क्षेत्र दीपिका पांडे सिंह सहित विधायक गोड्डा के विधायक प्रतिनिधि जयशंकर सिंह, बरहेट विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रतिनिधि भी मौजूद रहे, विधायक महागामा  दीपिका पांडे सिंह के द्वारा महागामा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत धान अधिप्राप्ति, कार्यशील पूंजी से संबंधित प्राप्त प्रतिवेदन, पैक्स/लैम्पस की सूची और सौर ऊर्जा द्वारा संचालित 5 मैट्रिक टन कोल्ड रूम का निर्माण, सहयोग समितियों के निर्वाचन, हेतु जानकारियां प्राप्त कर आवश्यक सुझाव दिए गए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिला सहकारिता पदाधिकारी गोड्डा सह विधि शाखा पदाधिकारी सुजीत कुमार सिंह के द्वारा जिले में धान अधिप्राप्ति से संबंधित जानकारियां समिति के समक्ष प्रस्तुत किए गए। उन्होंने बताया कि खरीफ विपणन मौसम वर्ष 2021- 22 में धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य 1940 रूपये प्रति क्विंटल एवं बोनस 110 रुपये प्रति क्विंटल कुल मिलाकर 2050 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित है। उनके द्वारा बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में धान कुल 18 लैंम्पस/ पैक्स एवं 6 एफपीसी में 175000 क्विंटल लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं। जिनके अनुरूप धान अधिप्राप्ति का कार्य जारी है समिति के समक्ष उन्होंने 23 कार्यशील पूंजी/ लैंम्पस/ पैक्स /व्यापार मंडल के चयन के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारियां प्रदान की। गोड्डा जिले मे कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराने हेतु जिला अंतर्गत पैक्स /लैंम्पस/ व्यापार मंडल से संवंधित प्रस्ताव पर विचार विमर्श समिति से की गई। इनमें जो भी वांछित अहर्ता रखते हो उनके ही प्रस्ताव स्वीकार किए जाएंगे ।साथ ही साथ उनके द्वारा समिति के समक्ष 03 सौर ऊर्जा चालित मिनी कोल्ड रूम निर्माण हेतु प्रस्ताव समिति के समक्ष रखा गया। कोल्ड रूम निर्माण के स्थल चयन पर विचार विमर्श की गई। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उपायुक्त के द्वारा निर्देश दिए गए कि जिले में वैसे जगहों जहां पर लैम्पस /पैक्स का निर्माण नहीं हुआ है एवं इच्छुक किसानों के द्वारा धान अधिप्राप्ति की जा सकती है वैसे जगहों को चिन्हित कर मिनी धान अधिप्राप्ति केंद्र बनाए जा सकते हैं जिस पर विचार विमर्श की गई। मौके पर जिला आपूर्ति पदाधिकारी वासुदेव प्रसाद, जिला कृषि पदाधिकारी रमेश कुमार सिन्हा, जिला सहकारिता पदाधिकारी सुजीत कुमार सिंह, जिला सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी अभय कुमार जिला अंकित पदाधिकारी शशि लाल सहित अन्य पदाधिकारी गण मौजूद थे।

Share on Google Plus

Editor - भूपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education