Chandan News : नए साल का दीदार में झझवा पहाड़ स्थित झरना

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। प्रखंड क्षेत्र के चांदवारी पंचायत के आनंदपुर ओपी अंतर्गत केंदुआर गांव स्थित जो भैरोगंज से लगभग 3 किलोमीटर दूर परिस्थिति मनमोहक प्राकृतिक सौंदर्य को अपनी बांहों में समेटे झझवा पहाड़ के गोद में बसे झरना नदी नए साल के स्वागत करने को बेताब है अपने अनुपम सौंदर्य की गोद में पिकनिक मनाने वाले लोगों में मन को मोहने वाला झझवा झरना दिनों दिन नदी के तेज धार से और मनमोहक होती जा रही है वहीं भैरोगंज बाजार से महज 1 किलोमीटर दूर स्थित भलसुनिया गुफा जो जो चारों तरफ जंगल से घिरा पहाड़ी की वादियां मनमोहक प्राकृत सौंदर्य अपनी बाहों में समेटे रखें और नए साल के दीदार में है। इसी प्रकार झझवा झरना नदी के बीचो-बीच पड़े हजारों छोटे-बड़े चट्टानों जो नदी की धारा से छल छल कल कल की आवाजें से सैलानियों को आकर्षित करती है। झरना के दोनों तरफ से हरे भरे ऊंचे टीले एवं 

छोटी पहाड़ियों के बीच गुजरती है जो खूबसूरत मोड़ देकर आकर्षित बना रखी है बहती जलधारा की आवाज मानो कोई धुन से कम नहीं है जिसे सुनने के लिए सैलानियों के दिलों दिमाग पर अपनी अलग पहचान बनाई है। नए साल पर आरंभ होती है यहां सैलानियों बंगाल के साथ-साथ आसपास के राज्यों के लोग पिकनिक मनाने जुटते हैं और नदी की जलधारा की मीठी ढोल के बीच जमकर मस्ती भी करते हैं बड़े-बड़े पत्थरों पर बैठकर अपने कैमरे में कैद करने में यहां के दृश्य को यादगार के छाप ले जाते। यहां की स्थानीय लोग माने तो इसे मिनी शिमला भी करते हैं दोनों दोनों तरफ पहाड़ों और उनके तीनों पर हरे भरे पेड़ झाड़ियां झरने की सुंदरता में चार चांद लगाये हुए हैं। एक और जमुई जिले के सिमुलतला क्षेत्र भी मिनी शिमला से कम नहीं है जहां ठंड पड़ते ही दूरदराज के सैलानियों ने ब्रिटिश जमाने की बनाए गए राजा कोठी को देखने और यहां के वातावरण का आनंद उठाने आते हैं। राजा कोठी सिमुलतला की प्रसिद्ध कोठी है जो बगैर छत आज तक लोगों का आकर्षित केंद्र बना हुआ है। गत कुछ दिनों पहले सिमुलतला स्टेशन की कायाकल्प पलट दी गई है। वही झझवा पहाड़ अपने आगोश में अनुपम प्राकृतिक सौंदर्य को समिति जज्बा झरना प्रशासनिक अपेक्षा का शिकार है प्रशासन गाड़ी से सवारे तो जिले में रिटर्न का लिहाज से झझवा अपना महत्वपूर्ण स्थान बना सकता है जिससे आसपास के क्षेत्रों के लोगों को यहां आकर इसके प्रकृतिक सौंदर्य का लुफ्त उठा सकें। 

उमाकांत साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education