Jamshedpur New: अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में स्टार्टअप का जलवा जमशेदपुर के युवक का झारखण्ड- राजस्थान की कला में फ्यूजन का तड़का



 ग्राम समाचार संवाददाता, जमशेदपुर :  दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहे ट्रेड फेयर के झारखण्ड पवेलियन मे एक स्टॉल पर जमशेदपुर के एक युवा के स्टार्टअप का जलवा जारी है। उन्होंने झारखण्ड और राजस्थान के फ्यूजन में तड़का लगा कर एक स्टार्टअप शुरू किया है| इस फ्यूजन में इस युवा ने झारखण्ड के पारम्परिक आभूषणों को नए अंदाज में ट्रेंडी बना दिया है। नए जामने के ये आभूषण मेले में लोगो को खूब आकर्षित कर रहे हैं| वे बताते हैं, सिल्क की साड़ी पर कलाकारी को देखने के बाद दोस्तों ने उन्हें ऐसे आभूषण बनाने के लिए प्रेरित किया था| ख़ास बात यह है की वह पोषक के रंग से मेल खाते हुए रंग व् जूलरी आन आर्डर डिमांड भी बना रहे है| 

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में झारखण्ड पवेलियन में जमशेदपुर के धीरज जैन राजस्थान की कला को झारखण्ड की ज्वेलरी पर उकेर रहे हैं| उन्होंने दोनों राज्यों की कला का फ्यूजन कर दिया है|  वर्तमान में मानवाधिकार विषय में स्नाकोत्तर की पढाई कर रहे धीरज जैन ने 2016 में यह स्टार्टअप शुरू किया था| छोटे स्तर पर शुरुआत करने के बाद अब उन्हें बड़े ऑर्डर अन्य शहरों से मिलने लगे हैं| धीरज बताते है की डिजाइनिंग से लेकर ज्वेलरी को जोड़ने का काम वे खुद करते हैं| सीप पर मोती स्टोन का प्रयोग करते हुए पेंटिंग काएक पीस वह चार घंटे में बनाते हैं| कुछ कामों में उनकी माँ सहयोग करती हैं| इस छोटे स्टार्टअप की शुरुआत अब  बिज़नेस का रूप लेने लगा है| वह बताते है की डिजाइनिंग में रुचि थी| इसलिए एक बार सिल्क की साड़ी में कुछ स्टोन के साथ डिजाइनिंग की। वह साड़ी काफी आकर्षक बनी। उसके बाद दोस्तों के कहने पर ज्वेलरी की डिजाइनिंग शुरू की। वह ज्वेलरी पर राजस्थान कला की पेंटिंग करते हैं| अपनी कला के जरिये वह कान के बुँदे, गले का हार, अंगूठी, ब्रेसलेट तैयार करते हैं|  

कालीदास मुर्मू, जमशेदपुर।





Share on Google Plus

Editor - कालीदास मुर्मू , जमशेदपुर

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education