Rewari News : स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा आजाद हिद फौज जवानों का योगदान : श्रीभगवान फौगाट

ग्राम समाचार न्यूज़ रेवाड़ी : द्वितीय विश्व युद्ध में हरियाणा प्रदेश के जवानों ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के आहवान पर अग्रेजी सेनाओं से बगावत कर आजाद हिद फौज में हिस्सा लिया था वह अंग्रेजी सेनाओं से लडते शहिद हुए और लडाई में पकड़े गए जवानों को अगेजी सेनाओं द्वारा जेलों में डाल दिया गया था वह यातनाएं सहते शहिद हुए और यातनाएं सहते जिवित रहे जवानों को युद्ध समाप्त होने पर रिहा कर नौकरी से निकल दिया गया था उनका रिकार्ड भी अगेजी सेनाओं द्वारा दिया गया था उसके आधार पर आवेदनकर्ताओं को स्वतंत्रता सेनानी सममान पैशन दिया गया था उनको रिकार्ड अनुसार अंग्रेजी सेनाओं का सैनिक पाया जाता था अतः सममान पैशन फाईल असविकार किया जाता था उनको आजाद हिद फौज सदस्यों की कमेटीयो कि सिफारिशों के आधार पर पुनः विचार कर सममान पैशन दिया जाता था अतः सभी आवेदनकर्ताओं को सममान पैशन नहीं मिल पाया था उनकि असविकार सममान पैशन फाईल रिपोर्ट के साथ रिकार्ड राष्ट्रीय अभिलेखागार आजाद हिद फौज भी पाया जाता रहा था उन आजाद हिद फौज शहिदों का नाम समारको गोरवपटो मे भी पाया जाता रहा था उसमें उनको अंग्रेजी सेनाओं में रहते शहिद पाया जाता रहा था अतः श्री भगवान फौगाट दवारा राज्य सरकार से आगामी कार्यवाही करने का अनुरोध किया जाता रहा था अतः मुख्य सचिव दवारा सभी उपायुक्तों को आगामी कार्यवाही करने की सिफारिशें बार बार किया जाता रहा था. राज्य सरकार द्वारा भी आगामी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया जा रहा है लेकिन यह रिकार्ड परिवारों तक नहीं पहुंच पाया है अब राज्य सरकार द्वारा 75वी आजादी की वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोतसव अवसर पर स्वतन्त्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान पर आधारित एक प्रदशनी तैयार किया गया है उसे पुरे प्रदेश में दिखाया जाना है जवकि आज तक सभी आजाद हिद फौज के जवानों की पहचान भी पुरी नहीं हो पायीं है उनको अंग्रेजी सेनाओं में रहते शहिद जवान भी समारको गोरवपटटो मे दिखाया गया है उनका रिकार्ड राष्ट्रीय अभिलेखागार आजाद हिद फौज भी राज्य सरकार के पास रखा गया है श्री भगवान फौगाट दवारा मांग की है कि आजाद हिद फौज के हरियाणा प्रदेश जवानों व शहिद जवानों को गुमनाम सवतनरता सैनानी पाया गया है उससे पता चलता है अनेकों ऐसे जवानों ने भी आजादी के आन्दोलन में अपने बलिदान भी दिया गया था उनकी पहचान करना अब आसान है अपना भी बलिदान शामिल करना अतिमहत्वपूर्ण है यह हमारें प्रदेश के लिए भी अतिमहत्वपूर्ण है यह अधययन करना सभी प्रदेश मिडिया के लिए आसान है. 

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education