Rewari News : होनहार बेटी शिवांशी यादव का इसरो में चयन हुआ, परिवार समेत आसपास के लोगो में ख़ुशी का माहौल

रेवाड़ी की होनहार बेटी शिवांशी यादव का इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन यानि इसरो में चयन हुआ है। ऑल इंडिया में दस उम्मीदवारों की चयन सूचि में एक नाम रेवाड़ी की होनहार बेटी शिवांशी यादव का है जो मूल रूप से कोसली के खुसपुरा गांव की रहने वाली है और अभी रेवाड़ी के सैक्टर 04 में अपने परिवार के साथ रह रही है। शिवांशी ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय अपने कठिन परिश्रम के साथ अपने माता पिता व गुरुजनो के मार्गदर्शन को दिया है। शिवांशी यादव की इस उपलब्धि से परिवार समेत जिले में ख़ुशी का माहौल है। परिवार और आसपास के लोग शिवांशी को बधाई देने के साथ मिठाई खिलाकर उसे मुबारकवाद दे रहे है। शिवांशी अब एक साल के लिए इंडिया से और एक साल नीदरलैंड की यूनिवर्सिटी से आईटीसी में मास्टर डिग्री करेगी। 




शिवांशी यादव ने चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय हिसार से शिक्षा ग्रहण की है। शिवांशी उन दस भाग्यशाली विद्यार्थियों में से एक है जिसका इसरो में चयन हुआ है। शिवांशी ने प्राइमरी की पढाई रेवाड़ी से जबकि सीनियर सेकंडरी की पढाई झज्जर से की है। बीटेक के लिए एचएयू में चयन हुआ। शिवांशी के पिता विजय यादव मेवात में सहायक कृषि अभियंता के पद पर कार्यरत है जबकि माता पुष्पा देवी ग्रहणी है शिवांशी ने कहा कि उसे शुरू से ही परिश्रम किया और माता पिता के साथ गुरुजनो का मार्गदर्शन मिला जिसके चलते उसने यह मुकाम हासिल किया है और आगे भी वे अपने लक्ष्य की ओर बढ़ती रहेगी। माँ पुष्पा और दादी ने कहा कि उन्हें अपनी बेटी और पौती पर गर्व है जिसने उनका नाम रोशन किया है। शिवांशी के दादा की भी इच्छा थी की शिवांशी बहुत आगे तक जाये लिहाजा शिवांशी ने यह कर दिखाया है और अपने साथ अपने जिले और प्रदेश का नाम रोशन किया है शिवांशी उन लोगो के लिए भी एक सन्देश है जो बेटियों को बोझ मानते है और उन्हें आगे नहीं पढ़ने देते।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education