Jamtara News:पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर की जयंती मनाई गई।

 


ग्राम समाचार, जामताड़ा। पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर के 202 वी जयंती के उपलक्ष पर रविवार को भारत ज्ञान विज्ञान समिति जिला इकाई के सौजन्य से जामताड़ा शहर स्थित संत एंथोनी स्कूल परिसर में कई प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन किया गया और विद्यासागर के चित्र पर पुष्प अर्पित एवं माल्यार्पण किया गया। रविवार सुबह 6:30 बजे संत एंथोनी स्कूल परिसर से खिलाड़ियों तथा खेल प्रेमियों की मैराथन दौड़ शुरू हुई जो पूरे बाजार भ्रमण करते हुए सुभाष चौक से पुनः वापस स्कूल परिसर पहुंचा। मैराथन दौड़ प्रतियोगिता में सफल प्रतिभागियों को भारत ज्ञान विज्ञान समिति ने पुरस्कृत किया। मैराथन दौड़ को लेकर संत एंथोनी स्कूल कायस्थ पाड़ा प्रबंधन ने संबंधित मार्ग में बेहतर व्यवस्था स्थापित किया था ताकि कोई प्रतिभागी छात्र छात्राएं एवं खेल प्रेमी सड़क दुर्घटना के शिकार ना हो। दोपहर बाद संत एंथोनी स्कूल के सभागार में मुख्य अतिथि अनुमंडल पदाधिकारी संजय कुमार पांडे की उपस्थिति में पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर के जीवनी पर आधारित परिचर्चा को ले विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा ईश्वर चंद्र विद्यासागर के विचार किए गए कार्य एवं प्रस्तावित कार्य समाज के उन्नति की ओर अग्रसर ले जाने वाला है लोगों को चाहिए उनके विचार को आत्मसात करते हुए उनके प्रस्तावित अधूरे सपने को मंजिल तक पहुंचाना है तभी समृद्ध सशक्त परिवार समाज राज्य एवं देश का निर्माण होगा। विचार गोष्ठी में भारत ज्ञान विज्ञान समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ काशीनाथ चटर्जी ने कहा संस्कृत शिक्षा की शुभारंभ करने वाले विद्वान में विद्यासागर की भूमिका अहम है इसी प्रकार देश आजादी समेत अन्य राष्ट्रहित के कामों में सुभाष चंद्र बोस का अहम योगदान रहा है लेकिन नई शिक्षा नीति में ऐसे महत्वपूर्ण व्यक्तियों के जीवनी ओं को शामिल नहीं किया गया है यह देश के लिए दुर्भाग्य है। जरूरत है हम सभी एकजुट होकर ईश्वर चंद्र विद्यासागर जी के अधूरे सपने को साकार करने के लिए हर गांव में जागरूकता अभियान चलावे। मौके पर हिंदी लेखक अजीत राय, भारत ज्ञान विज्ञान समिति के कंचन गोपाल मंडल, चंडीदास पूरी, डॉक्टर चंचल भंडारी ने सभा में ईश्वर चंद्र विद्यासागर के जीवनी पर प्रकाश डाला का हाल लंबे समय तक जामताड़ा में रहकर विद्यासागर ने बालिका शिक्षा का विस्तार, विधवा विवाह चालू करने आदि हम प्रयास किए हैं। सभा को संबोधित करते हुए दुर्गादास भंडारी ने कहा वर्तमान समय ईश्वर चंद्र विद्यासागर के अधूरे सपने को पूरा करने को प्रेरित कर रहा है लेकिन इसके लिए पंडित ईश्वर चंद्र विद्यासागर की जयंती एवं पुण्यतिथि मनाने से नहीं होगा हम तमाम लोगों को एकजुट होकर संकल्प लेना होगा कि ईश्वर चंद्र विद्यासागर के अधूरे सपने को शीघ्र पूरा करेंगे।

Share on Google Plus

Editor - कौशल औझा, जामताड़ा (झारखंड)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education