Bhagalpur News:धनी एखलाक के व्यक्ति थे सैयद हसन मानी :सैयद फखरे आलम, चेहल्लुम पर याद किए गए 14वें सज्जादानशीं



ग्राम समाचार, भागलपुर। खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह के 14वें सज्जादानशीं सैयद शाह हसन मानी नदवी रहमतुल्लाह अलैह के 40वें के मौके पर खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह में मजलिस का आयोजन किया। मदरसा पीर दमड़िया शाह में रोजाना दो मुकम्मल कुरान-ए-पाक की तिलावत किया जाता और हजरत मौलाना सैयद शाह हसन मानी रहमतुल्लाह अलैहि के लिए इसालो  सवाव किया जाने का सिलसिला जारी है। शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह के 15वें सज्जादानशीं सैयद शाह फखरे आलम हसन स्वास्थ्य लाभ के बाद भागलपुर तशरीफ लाए। इस मौके पर उन्होंने ने सैयद शाह हसन मानी साहब रहमतुल्लाह अलैह के लिए मगफिरत और बुलंदी-ए-दरजात के लिए दुआ करायी। इस मौके पर खानदान के लोग उपस्थित थे। जिन्होंने अपने गम का इजहार किया। इस मौके पर खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह के 15वें सज्जादानशीं सैयद शाह फखरे आलम हसन ने कहा कि वालिद-ए-मोहतरम इंतेहायी बाएखलाक और मुतक्की व परहेजगार थे, जिनकी पूरी जिंदगी अल्लाह की इबादत में गुजरी है। सैयद शाह हसन मानी रहमतुल्लाह अलैहि से सिर्फ शहर वाले ही नहीं बल्कि किसी भी धर्म व मजहब का हो आप से मिलने के बाद प्रभावित हो जाता था। स्व. सैयद शाह हसन मानी रहमतुल्लाह अलैहि खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह और वक्फ सैयद शाह एनायत हुसैन 159 खलीफाबाग के विकास का हर संभव कार्य किया जिसे कभी भूलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा कि सैयद शाह हसन मानी रहमतुल्लाह अलैह मिलनसार और एखलाकमंद थे। जिन्होंने हमेशा लोगों की मदद की हर परेशान हाल और बेबस लोगों की दिलजोई करते हुए हरसंभव लोगों की मदद करते थे। हजरत मौलाना सैयद शाह हसन मानी रहमतुल्लाह अलैह का दुनिया से चले जाना खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह और खानदान के लोग और रिश्तेदारों, अनुयायी और संबंधित लोगों में गम है और आप के नहीं रहने से खानकाह-ए-पीर दमड़िया शाह से रोनक चली गई। जिसका असर एक युग तक महसूस किया जाता रहेगा। इस मौके पर सैयद नेहाल अहसन, सैयद मुमताज अहसन, सैयद मंजर हुसैन, सैयद मनाजिर शाह, डा. एजाज हसन, सैयद मोहिउद्दीन शाह, सैयद मो. आसिफ, हाफिज अबूल कैस सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। 


Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education