expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : विधायक चिरंजीव राव ने कहा-बजट में हरियाणा की अनदेखी हुई

रेवाडी। विधायक चिरंजीव राव ने बजट में हरियाणा की अनदेखी पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी को सिर्फ सत्ता से प्यार है आम आदमी से नही। बजट में हरियाणा प्रदेश की जमकर अनदेखी की गई है जबकि जिन राज्यों में चुनाव होना है उस तरफ विशेष ध्यान दिया गया है। चिरंजीव राव ने सवाल किया कि दक्षिणी हरियाणा में केंद्र की योजना एम्स, डिफेंस युनिवर्सिटी बिनौला इत्यादि हैं। उनका क्या होगा इस तरफ सरकार का ध्यान बिल्कुल नही है। जब हरियाणा में चुनाव थे तो भाजपा को मनेठी एम्स याद रहा उसके बाद भूल गए। विधायक ने कहा कि शिक्षा और स्वास्थय सुधार के लिए बहुत ही कम वृद्वि की गई है, जबकि शिक्षा और स्वास्थय पर ठोस बजट आना चाहिए था। सबसे जरूरी बात रोजगार की है, बजट में रोजगार का भी कोई जिक्र तक नही है। इस बजट में किसानों, युवाओं, व्यापारियों, कर्मचारियों के लिए कुछ भी नया नही है। 



चिरंजीव राव ने कहा कि पूरे देश के किसान धरने पर बैठे हैं। किसानों को बहूत उम्मीद थी कि उनके न्यूतम समर्थन मूल्य की ओर ध्यान दिया जाएगा। लेकिन इस बजट के बाद किसानों के हाथ पहले की तरह खाली रहे गए। बजट में किसानों के लिए किसी प्रकार की सबसीडी नही दी गई है। महिला सुरक्षा पर सरकार क्या कर रही है, बजट में महिला सुरक्षा को लेकर कोई जिक्र नही है। मंहगाई सांतवे आसमान पर है, रोजमर्रा की वस्तुओं से लेकर, बिजली के दाम, किसान भाईयों के खाद्द-बीज, गैस सिलेंडर, पेट्र्रोल-डीजल सभी ने कमर तोड रखी है। बजट में इस पर बिल्कुल भी ध्यान नही दिया गया। इस बजट में सभी को निराशा हाथ लगी है। यह बजट पूरे तरीके से अप्रगतिशील और दिशाहीन बजट है। चिरंजीव राव ने कहा कि कोरोना और लॉकडाउन की मंदी से परेशान हर वर्ग को बजट से राहत की उम्मीद थी। लेकिन सरकार ने सभी की उम्मीदों पर फानी फेर दिया। इसके अलावा एक के बाद एक तमाम सरकारी संपत्तियों को निजी हाथों में सौंपकर सरकार व्यापाक निजीकरण की तरफ बढ रही है। 
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें