expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Jamtara News: वैसे अभिभावकों पर होगी कार्रवाई जिनके नाबालिक बच्चे बिना लाइसेंस के चला रहे हैं वाहन




ग्राम समाचार जामताड़ा, ब्यूरो रिपोर्ट:-  उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्री फ़ैज़ अक अहमद मुमताज (भा.प्र.से.) कि अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित की गई।बैठक में पूर्व में हुए सड़क सुरक्षा समिति बैठक की कार्यवाही की समीक्षा उपायुक्त द्वारा की गई।वहीं उन्होंने जिले में चिन्हित दुर्घटना संभावित क्षेत्र में बैरिकेड/ रंबल स्ट्रिप साइनेज लगाने संबंधी चर्चा, डीपीआईयू जामताड़ा द्वारा जिला अंतर्गत चिन्हित दुर्घटना संभावित क्षेत्र की सूची यथा पांडेयडीह मोड़( नारायणपुर) जामताड़ा, बाईपास साइडिंग मोड़, जामताड़ा, पोसोई मोड़, जामताड़ा, सतसाल बाईपास जामताड़ा, पुलिस अधीक्षक आवास जामताड़ा, पांडेयडीह मोड़ से मुरली पहाड़ी मोड़ तक ऐसे स्थान जो 90 डिग्री में मुड़ा हुआ है उक्त स्थान पर रोड सेफ्टी कन्वैक्स मिरर लगाने संबंधी, जिला अंतर्गत सड़कों का लगातार निरीक्षण के उपरांत अच्छी सड़कों में अनएक्सपेक्टेड (टूटी हुई सड़क दुर्घटना का कारण बनता है) खराबी को दूर करने के संबंध में चर्चा, जिले में ज्यादा दुर्घटना दो चक्का वाहनों से दुर्घटनाएं हो रही है। इसे रोकने संबंधी तथा जिला अंतर्गत सड़क दुर्घटना में कमी लाने के लिए प्रत्येक थाना के प्रमुख सड़क में नियमित वाहन जांच करने संबंधी चर्चा सहित अन्य विषयों पर चर्चा की गई।उपायुक्त द्वारा कार्यपालक अभियंता पथ प्रमंडल, जामताड़ा को निदेश दिया गया कि जिला अंतर्गत सभी सड़कों एवं सड़क किनारे से वैसे होर्डिंग या अन्य सामग्रियों को हटाना सुनिश्चित करें जो वाहन चालकों का ध्यान भटका सकते हैं। उपायुक्त द्वारा सिविल सर्जन एवं पुलिस उपाधीक्षक को सड़क दुर्घटना की स्थिति में सहायता हेतु एंबुलेंस सेवा का मैपिंग करने तथा इसे जिला अंतर्गत राज्य एवं नेशनल हाईवे के किनारे डायल 108 & 100 के साथ-साथ संबंधित एंबुलेंस चालक का दूरभाष संख्या तथा संबंधित थाना का दूरभाष संख्या प्रदर्शित करें। बैठक में उपायुक्त ने पिछली बैठक का कार्यवाही प्रतिवेदन का समीक्षा किया। उन्होंने कहा कि जामताड़ा जिले में हाल के दिनों में सड़क दुर्घटनाएं काफी बढ़ी है। इसको लेकर उन्होंने ब्लैक स्पॉट को देखने तथा सबसे ज्यादा दुर्घटना होने वाले स्थलों को चिन्हित करें। ताकि ऐसे स्थलों पर सड़क दुर्घटना को कम करने हेतु साइन बोर्ड, गति अवरोधक, आदि उपाय को अपनाकर दुर्घटना के जोखिम को कम किया जा सके।वहीं बिना ड्राइविंग लाइसेंस के नाबालिग लड़के/ लड़कियों के द्वारा वाहन चलाए जाने को लेकर उपायुक्त ने कहा कि इसको लेकर लगातार वाहन जांच अभियान चलाने, बच्चों के साथ साथ उनके अभिभावक के बीच भी जागरूकता फैलाएं। जागरूकता हेतु फ्लैक्स एवं बैनर बनवाएं जिसमें सारी जानकारी हो उसे भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर लगवाएं। आगे उपायुक्त ने कहा कि वर्तमान में देखा जा रहा है कि दोपहिया वाहन चालक के द्वारा हेलमेट का उपयोग नहीं किया जा रहा है। वहीं जिले के पेट्रोल पंप संचालकों के द्वारा भी "नो हेलमेट नो पेट्रोल" का अनुपालन नहीं किया जा रहा है। ऐसे पेट्रोल पंप संचालकों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने तथा नापतौल अधिकारी के साथ साझा जांच अभियान चलाने का निर्देश दिया|पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार सिन्हा (भा.पु.से.) ने कहा कि जिला अंतर्गत आने वाले सड़कों में कौन किस थाना क्षेत्र में आता है इसकी सूचना को प्रदर्शित करें। जिसमें संबंधित थाना प्रभारी का मोबाईल नंबर, एंबुलेंस सेवा का डिटेल्स रहे। बैठक में उपरोक्त के अलावे अनुमंडल पदाधिकारी, जामताड़ा संजय पांडेय, प्रभारी जिला परिवहन पदाधिकारी, जामताड़ा ओम प्रकाश यादव, जिला शिक्षा अधीक्षक, जामताड़ा ब्रज मोहन कुमार,सिविल सर्जन डॉ आशा एक्का, कार्यपालक पदाधिकारी नगर निकाय जामताड़ा रामाश्रय दास, जिला परिवहन कार्यालय के लिपिक, सड़क सुरक्षा के कर्मी सहित अन्य मौके पर उपस्थित थे।



Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें