expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Banka News: मोहर्रम को लेकर वक्फ बोर्ड ने की आम लोगों से अपील

 ग्राम समाचार,बांका। बिहार राज्य शिया वक्फ बोर्ड एवं बिहार राज सुन्नी वक्फ बोर्ड   के द्वारा आम लोगों से अपील की गई है कि इस वर्ष  मोहर्रम दिनांक 21.08.2020 से 30.08.2020 तक मनाए जाने की संभावना है। कोरोना महामारी को लेकर गृह मंत्रालय, भारत सरकार, के द्वारा अनलॉक–3 के तहत 31.08.2020 तक के लिए गाइडलाइन जारी की गई है। जिसके अंतर्गत किसी भी प्रकार के धार्मिक आयोजन या जमावड़े पर रोक लगाई गई है। गृह विभाग, बिहार सरकार, के द्वारा भी अनलॉक–3 की अवधि 06.09.2020 तक विस्तारित करते हुए सभी धार्मिक स्थलों को आम लोगों के लिए बंद रखने तथा किसी प्रकार का धार्मिक जमावड़ा नहीं लगाने का निर्देश दिया गया है।


भारत सरकार एवं बिहार सरकार के दिशा निर्देशों तथा कोरोना की वर्तमान स्थिति को देखते हुए मोहर्रम के संबंध में निम्न अपील की गई है:-

1. अलम, ताजिया,सिपर  अथवा अखाड़े का कोई जुलुस नहीं निकाला जायेगा। शस्त्र प्रदर्शन नहीं किया जाएगा। डी0जे0 /लाउडस्पीकर का भी प्रयोग नहीं किया जायेगा।

2. किसी भी सार्वजनिक स्थल पर ताजिया नहीं रखा जाए तथा अखाड़े का आयोजन नहीं किया जाएगा।

3. इमामबाड़ा/अजाखाना/जरीखाना की साफ-सफाई, रोशनी,सजावट आदि की जाएगी । परंतु उसमें लोगों की भीड़-भाड़ इकट्ठे नहीं होना चाहिए।

4. इमामबाड़ा/अजाखाना में मजलिस/मरसिया/नोहा पढ़ने वाले व्यक्ति के अलावा बहुत सीमित संख्या में ही इमामबाड़ा प्रबंध समिति के सदस्य सोशल डिस्टेंस के साथ उपस्थित रह सकते हैं। मजलिस/मरसिया/नोहा का प्रसारण जूम एवं अन्य डिजिटल माध्यम से किया जाए । जिससे आम आदमी अपने घरों में बैठकर देख सुन सके। इमामबाड़ा में स्थानीय व्यक्तियों को एक होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

5. अपने अपने घरों में केवल अपने परिवार के सदस्य के साथ सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मजलिस का आयोजन कर सकते हैं।

ब्यूरो रिपोर्ट, ग्राम समाचार, बांका।

Share on Google Plus

Editor - सुनील कुमार

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें