expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघआंगनवाड़ी केंद्रों में SFSMP की सप्लाई करेगा

चंडीगढ़ स्थित अपने कार्यालय पर बैठक करते मंत्री. 

ग्राम समाचार न्यूज : चंडीगढ़ : हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ जल्द ही मध्य जुलाई, 2020 तक बच्चों (1- 6 वर्ष), गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए आंगनवाड़ी केंद्रों में महिलाओं और बाल विकास के पूरक पोषण कार्यक्रम के तहत फोर्टिफाइड स्वीटनर फ्लेवर्ड मिल्क पाउडर (एसएफएसएमपी) की आपूर्ति शुरू करेगा और एक वर्ष में लगभग 5800 मीट्रिक टन एसएफएसएमपी की आपूर्ति की जाएगी। यह जानकारी आज यहां हरियाणा के सहकारिता मंत्री डाॅ. बनवारी लाल की अध्यक्षता में आयोजित हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ की बैठक में दी गई। इस बैठक में सहकारिता मंत्री ने प्रसंघ के कार्याें की समीक्षा भी की। इसके अलावा,  हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ वीटा बूथों पर टेट्रा पैक में एचपीएमसी रस/पेय के विपणन के लिए हिमाचल प्रदेश बागवानी उत्पादन विपणन और प्रसंस्करण निगम लिमिटेड (एचपीएमसी) के साथ बातचीत कर रहा है। बैठक में सहकारिता मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा बजट भाषण 2020-21 के दौरान भी टेट्रा पैक प्लांट की घोषणा की गई थी और रोहतक में प्रस्तावित यूएचटी टेट्रा पैक प्लांट की डीपीआर शीघ्र तैयार की जाए तथा हरियाणा के पहले टेट्रा पैक प्लांट की स्थापना के लिए कार्य शुरू किया जाए। सहकारिता मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ को अधिक से अधिक मिल्क बूथ/पार्लर खोलने चाहिए ताकि वीटा दूध और दूध उत्पाद लोगों को आसानी से उपलब्ध हों सकें जिससे प्रसंघ और दुग्ध समितियों की लाभप्रदता बढ़ेगी जोकि दूध के लिए मूल्य प्रोत्साहन और बोनस को सक्षम करेगा।  
बैठक में सहकारिता मंत्री ने दक्षिणी हरियाणा में एक आधुनिक मिल्क प्लांट की स्थापना की स्थिति की भी समीक्षा की। बैठक में बताया गया कि इस बारे में राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीवी) को एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है और यह एक सप्ताह में अपेक्षित है। इस संयंत्र की स्थापना के लिए भूमि की तलाश भी की जा रही है। बैठक में मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अंबाला और बल्लभगढ़ में शहर की सीमा के बाहर मिल्क प्लांटों को स्थानातंरित करने की संभावनाएं तलाशें। बैठक में उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि वे प्रसंघ और यूनियन स्तर पर स्टाफ की स्थिति का विस्तृत अध्ययन करें। इस अवसर पर प्रसंघ के प्रबंध निदेशक ए श्रीनिवास, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी रोहित यादव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें