expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: पाकुड़ याद किए गए शहीद एसपी अमरजीत बलिहार

ग्राम समाचार, पाकुड़।ब्यूरो रिपोर्ट:- जिले के पूर्व पुलिस अधीक्षक स्व. अमरजीत बलिहार सहित पांच अन्य पुलिस कर्मियों के शहादत दिवस पर गुरुवार को समाहरणालय समीप स्थित उनके प्रतिमा स्थल पर एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। जहां सबसे पहले उनके प्रतिमा पर उपायुक्त कुलदीप चौधरी, एसपी मणिलाल मंडल, मुख्यालय डीएसपी संजय सिंह, एसडीपी पाकुड़ अशोक कुमार, एसडीपीओ महेशपुर शशि प्रकाश आदि पुलिस अधिकारियों एवं जवानों ने माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। आगे,पदाधिकारियों ने एक मीनट का मौन रख शहीद एसपी व पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी। मौके पर उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने अपने संबोधन में शहीद जवानों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए नकस्लवाद के विरूद्ध जारी मुहिम में स्व. पुलिस अधीक्षक अमरजीत बलिहार के शहादत को याद रखते हुए पुलिस प्रशासन द्वारा इस मुहिम को जारी रखने के लिए अंतिम क्षण तक कृत संकल्पित होने की बात कहीं। मौके पर पुलिस अधीक्षक मणिलाल मंडल ने कहा कि शहीद पुलिस अधीक्षक स्व. अमरजीत बलिहार एवं जवानों की शहादत विभाग हमेशा याद रखेगी। पुलिस प्रशासन नक्सलवाद के विरूद्ध अपने अभियान को आगे भी जारी रखेगी। उन्होंने शहीद के परिजनों के लिए सहानुभूति व्यक्त की। इससे पूर्व डीसी - एसपी ने शहीदों के परिजनों को साल ओढ़ाकर सम्मानित किया। उन्हें ढ़ाढ़स बांधा। मौके पर  एसडीपीओ पाकुड़, महेशपुर, टाउन थाना प्रभारी, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार सिंह उपस्थित थे।उल्लेखनीय हो कि, सात साल पूर्व दो जुलाई 2013 को तत्कालीन डीआइजी प्रिया दुबे ने दुमका प्रमंडल के सभी छह जिलों के पुलिस अधीक्षकों की बैठक बुलाई थी। एसपी अमरजीत बलिहार भी बैठक में थे। दोपहर बाद वे पाकुड़ लौट रहे थे। उनकी गाड़ी जब काठीकुंड के आमतल्ला गांव के पास जंगल से गुजर रही थी। तभी घात लगाए बैठे नक्सलियों ने एके 47, इंसास और एसएलआर से ताबड़तोड़ गोलियां चलाई। पुलिस की ओर से भी फायरिंग की गई। एसपी को गोली लगने के बाद जवानों का हौसला टूट गया। हमले में एसपी के अलावा पांच जवान शहीद हो गए थे।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें