expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur News:सेमी के साथ वर्चुअल बैठक कर मायागंज एवं सदर अस्पताल में निजी क्षेत्र के अस्पतालों के चिकित्सकों के द्वारा कोविड-19 के इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करने की पहल

ग्राम समाचार, भागलपुर। राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य भाजयूमो सह पूर्व प्रत्याशी भागलपुर विधानसभा अर्जित शाश्वत चौबे ने भागलपुर एवं बिहार में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को कम करने एवं अस्पताल में बेहतर इलाज एवं मॉनिटरिंग हेतु केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के तकनीकी सलाहकार, सोसाइटी ऑफ इमेरजेंसी मेडिसिन आफ इंडिया-सेमी एवं एशियन सोसाइटी फार इमेरजेंसी मेडिसीन के पदाधिकारियों के साथ ऑनलाइन वर्चुअल बैठक किया। जिसमें देश विदेश में काम करने वाले विशेषज्ञ एवं सलाहकारों ने हिस्सा लिया। भागलपुर की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुदृढ करने चिकित्सकों का दल निःशुल्क सेवा देने को तैयार हुए। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री ने सेमी के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर भागलपुर के लिए संबंधित दिशा निर्देश दिए। अर्जित ने बताया कि उनकी पहल पर सेमी ने इमेरजेंसी मेडिसिन एवं डिसास्टर मैनेजमेंट में विभिन्न स्थानों पर कार्य कर चुके चिकित्सक एवं संगठनों का बैठक कराया जिसमें इराक, अमेरिका आदि स्थानों पर आपदा के समय काम करने वाले चिकित्सकों ने भी हिस्सा लिया। अर्जित ने सेमी से आग्रह किया था की भागलपुर में मायागंज अस्पताल एवं आइसोलेशन सेंटर पर मरीजों की देखरेख में दिक्कत आ रही है एवं चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को भी कोरोना पॉजिटिव डिटेक्ट होने के बाद मरीजों का ख्याल रखना थोड़ा प्रभावित हो गया है। सघन चिकित्सा लेने वाले मरीजों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है अतः यहां की क्या समुचित व्यवस्था किया जा सकता है। सेमी ने योजना बनाया है कि मेडिकल कालेज, आईसोलेशन सेन्टर एवं सदर अस्पताल में निरीक्षण कर यहां स्वास्थ्य चिकित्सा संबंधित समुचित व्यवस्था बनाया जा सकता है। जिसमे देश के बड़े निजी अस्पतालों के साथ तालमेल कर उनके दक्ष चिकित्सक, पारा मेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ एवं अटेंडेंट को 15-15 दिनों के रोस्टर पर निःशुल्क यहां लाकर सेवा लिया जाय। सेमी के अध्यक्ष डॉ तमोरिष कोले जो भारत सरकार स्वास्थ्य मंत्रालय के भी विभिन्न योजनाएं के परामर्श दाता हैं, ने कहा कि अफ्रीका के इबोला संक्रमण एवं अन्य आपदाओं एवं महामारी के समय चिकित्सा कार्य करने वाली डॉ पुनिधा एवं राष्ट्रीय स्तर पर आपदा में कोरोना के लिए विभिन्न अस्पतालों में व्यवस्था चलाने वाले डॉ रविकांत का उपयोग भागलपुर में किया जा सकता है। दोनों चिकित्सकों ने भी अपनी सहमति दे दी है और जल्द भागलपुर आकर निरीक्षण कर व्यापक योजना बनाने की बात कही। अर्जित ने कहा कि भागलपुर के सिविल सर्जन, मेडिकल कालेज के प्राचार्य एवं अस्पताल अधीक्षक से वार्तालाप चल रहा है और जल्द इस मॉडल को यहां लागु किया जाएगा ताकि स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाया जा सके।  वर्चुअल मीटिंग में अर्जित के अलावा सेमी के अध्यक्ष डॉ तमोरिष कोले, परामर्षकर्ता डॉ तारिक खान, डिजास्टर मैनेजमेंट सेवा से डॉ पुनिधा व डॉ रविकांत सिंह एवं स्वास्थ्य मंत्रालय से तकनीकी सलाहकार आशीष वर्मा ने बैठक में भाग लिया।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें