Bhagalpur News:एसएम कॉलेज एल्युमिनी की बैठक में जुटी पूर्ववर्ती छात्राएं, बसंत उत्सव में पुआ पकवान के साथ दी एक दूसरे को होली की बधाई


ग्राम समाचार, भागलपुर। सुन्दरवती महिला महाविद्यालय में शुक्रवार को पूर्ववर्ती छात्राओं (एल्युमिनी) की एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में एसएम कॉलेज से पढ़ी छात्राओं का जुटान हुआ। बैठक में पूर्ववर्ती छात्राओं ने अपने - अपने अनुभव साझा किए। एल्युमिनी बैठक की अध्यक्षता संघ की अध्यक्ष डॉ तबस्सुम परवीन ने की। उन्होंने कहा कि एसएम कॉलेज एल्युमिनी शैक्षिक, सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यों को बढ़ावा देने के लिए तत्पर है। उन्होंने संघ की क्रियाकलापों से पूर्ववर्ती छात्राओं को अवगत कराया। जबकि कार्यक्रम का संचालन एसएम कॉलेज एल्युमिनी संघ की सचिव व होम साइंस की हेड डॉ शेफाली ने की।‌कार्यक्रम का उदघाटन अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। मौके पर एसएम कॉलेज की प्राचार्या डॉ अर्चना ठाकुर ने एल्युमिनी की बैठक में आये पूर्ववर्ती छात्राओं का स्वागत फूल का पौधा भेंट कर किया। प्राचार्या ने कहा कि एसएम कॉलेज काफी प्रतिभावान संस्थान है। यहां से पढ़ी छात्राएं देश और दुनिया में महाविद्यालय का नाम रोशन कर रही हैं। उन्होंने पूर्ववर्ती छात्राओं को महाविद्यालय के विकास में सहयोग करने की अपील की। वहीं एसएम कॉलेज की पूर्व प्राचार्या डॉ मीना रानी ने कहा कि एल्युमिनी संघ का रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत है। एसोसिएशन संस्थान को सशक्त बनाता है। उन्होंने कहा कि एल्युमिनी संघ की बैठक निरन्तर होते रहना चाहिए। पूर्ववर्ती छात्राएं गरीब और असहाय बच्चों की सेवा करें। डॉ मीना रानी ने कहा कि संस्थान को जीवंत बनाए रखने में पूर्ववर्ती छात्राओं का सहयोग अपेक्षित है। सबों के सामूहिक प्रयास से ही महाविद्यालय निरन्तर आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि वर्षों बाद उनके कार्यकाल में नैक मूल्यांकन कराया गया था। जो काम बचे रह गए उसके लिए समेकित प्रयास और समर्पण से फिर से नैक मूल्यांकन कराया जा सकता है। डॉ मीना ने एल्युमिनी संघ को सबल बनाने के लिए सदस्यों की संख्या बढ़ाने पर बल दिया। उन्होंने भी संघ के लिए आर्थिक सहयोग की बात कही। विश्वविद्यालय की पूर्व परीक्षा नियंत्रक डॉ स्नेहप्रभा झा ने कहा कि व्यक्ति की पहचान उसके शैक्षणिक संस्थान से होती है। एसएम कॉलेज की छात्राएं काफी अनुशासित हैं। अपने महाविद्यालय में आकर काफी खुशी की अनुभूति हो रही है। उन्होंने एल्युमिनी संघ कोष में प्रतिवर्ष दस हजार रुपये आर्थिक सहयोग करने का आश्वासन दिया। पूर्व प्रॉक्टर डॉ रत्ना मुखर्जी ने कहा कि एसएम कॉलेज टीएमबीयू की एक प्रीमियर महाविद्यालय है। यहां की छात्राएं काफी मेधावी हैं। महाविद्यालय के विकास और उन्नति में पूर्ववर्ती छात्राओं का सहयोग बेहद जरूरी है। पूर्व डिप्टी मेयर व पूर्ववर्ती छात्रा डॉ प्रीति शेखर ने अपने कॉलेज के दिनों को याद करते हुए कहा कि एसएम कॉलेज बिहार का एक प्रतिष्ठित महिला महाविद्यालय है। उन्होंने कहा कि मेरा राजनीतिक करियर भी इसी महाविद्यालय से शुरू हुआ था जब वे इस महाविद्यालय से छात्र संघ का चुनाव लड़ी थी। लिहाजा यह महाविद्यालय उनकी राजनीतिक जीवन की पहली पाठशाला रही है। प्रीति शेखर ने एल्युमिनी संघ को हर सम्भव मदद देने की बात कही। पूर्ववर्ती छात्रा व एसएम कॉलेज के रसायन विभाग की कर्मी रंजना गांगुली की ओर से एल्युमिनी के सभी सदस्यों, अतिथियों और महाविद्यालय के शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मियों के लिए सह भोज का भी आयोजन किया गया। रंजना गांगुली 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रही हैं। इसी उपलक्ष्य में उनकी तरफ से बसंत उत्सव के साथ सहभोज का आयोजन किया गया था। सह भोज के साथ बसंत उत्सव में एक दूसरे को गुलाल लगाकर होली की अग्रिम बधाई दी गयी। पूरा माहौल बसन्तोत्सव का हो गया था। मौके पर पूर्ववर्ती छात्रा तनुश्री और कृतिका के नेतृत्व में बाल कलाकारों ने फाल्गुणोत्सव पर आधारित आकर्षक नृत्य प्रस्तुत कर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिया। सामूहिक नृत्य को खूब सराहा गया। छोटे - छोटे बच्चे कृष्ण कन्हैया और राधा के वेश में सबको आकर्षित कर रहे थे।‌एसएम कॉलेज पूर्ववर्ती छात्राओं में पूर्व प्राचार्या डॉ मीना रानी, पूर्व प्रॉक्टर डॉ रत्ना मुखर्जी, पूर्व परीक्षा नियंत्रक डॉ स्नेहप्रभा झा, डॉ रुकसाना नसर, डॉ शिवानी, प्रीति शेखर, महिला चिकित्सिका डॉ वर्षा सिन्हा, डॉ अर्चना झा के अलावे डॉ समीना, डॉ डॉ शाहिदा खानम, डॉ वीणा तिवारी, प्रो. माला सिन्हा, डॉ रीता सिन्हा, डॉ शेफाली, डॉ खालिदा नाज सहित महाविद्यालय के सभी शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

About Bijay shankar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment