Chandan News: राष्ट्रीय युवा दिवस पर बच्चों ने जांच प्रतियोगिता परीक्षा किया आयोजित

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर एसकेपी विद्या विहार राजपुर प्लस टू आवासीय विद्यालय बांका बिहार में छात्र छात्राओं के बीच उनकी प्रतिभाओं को निखारने के लिए एक जांच प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित किया गया। जिसमें सभी छात्र छात्राओं ने अपनी जांच परीक्षा में राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर इमानदारी से परीक्षा में शामिल होकर अपनी अपनी भागीदारी निभाई ।प्राचार्य मानस कुमार पाठक ने बताया कि नरेन्द्र नाथ  युवा समाज के लिए एक नई सोच और नई दिशा दी है। इसी संदर्भ में वर्तमान पीढ़ी राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में हर वर्ष उनको याद कर मनाते हैं । डॉक्टर केसी मिश्रा ने बताया कि 19वीं शताब्दी के अंत में हिंदू धर्म को मजबूत पहचान दिलाई थी । उनका व्यक्तित्व अप्रतिम था। जिसने आध्यात्मिकता और देशभक्ति को जोड़ा ।साथ ही साथ वैश्विक स्तर पर भारतीय मूल्यों का प्रचार किया ।जीव विज्ञान शिक्षक सह जिला पर्यावरण विशेषज्ञ व भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी बांका जिला ईकाई प्रबंध कमेटी सदस्य प्रवीण कुमार प्रणव ने 


बताया कि स्वामी जी का व्यक्तित्व बचपन से ही महान था ।सदा अपने गुरुजनों का सम्मान आदर पूर्वक करते हुए उनके बताए शब्दों को गंभीरता से संज्ञान में लेते थे। वर्तमान पीढ़ी के छात्रों को भी चाहिए कि वह अनुशासित जीवन शैली में रहते हुए अपने माता-पिता, गुरुजनों सहित सभी का सम्मान आदर करें। शिक्षकों की वाणी को आत्मसात कर आध्यात्मिक वैज्ञानिक व्यवहारिक ज्ञान पर स्वयं में आत्म चिंतन मनन करें। अपने साथ अपनी पीढ़ी को सही दिशा देने में अग्रणी भूमिका अदा करें।  उन्होंने विश्व स्तर पर अपने भारत देश का गौरव बढ़ाया। महज 25 वर्ष की उम्र में स्वामी जी सन्यास लिए थे । रामकृष्ण परमहंस के सानिध्य में रहकर उन्होंने अध्यात्मिक शक्ति को जगाया और आध्यात्मिक शक्ति जागृत करने के उपरांत विश्व स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए सात समंदर पार कर शिकागो पहुंचे ।जहां शून्य पर उनको बोलने का अवसर मिला।जानबूझकर  शून्य पर बोलने दिया गया।स्वामी विवेकानंद अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस जी से आशीर्वाद लेकर गये थे। अपने भाषण से ऐसा परचम लहराया शिकागो में कि भारत का जय जयकार होने लगा।युवाओं के लिए विश्व स्तर पर प्रशंसनीय रहे और उनके बताए मार्ग पर चलने के लिए विश्व संकल्प लिए। आज भी वर्तमान पीढ़ी स्वामी विवेकानंद के बताए हुए अपने कर्म पथ पर चलते हैं । पूरे भारत के युवा के लिए स्वामी जी पूज्यणीय,आदरणीय,सम्माननीय और सर्वश्रेष्ठ है। इस मौके पर उपस्थित शिक्षक आशीष कुमार झा, कैलाश कुमार झा, मनोज कुमार सिन्हा, मनोज कुमार झा ,राकेश झा, भरत नित्यम, डॉ अजय कुमार सिंह ,लाला प्रसाद चौधरी ,वीरेंद्र कुमार सिंह ,प्रभाकर सिंह, उदय कुमार रावत ,रामा प्रसाद दास ,उल्लास किशोर दास, मीता सिंह ,मालविका दास, नीलम सिंह, एचएन सिंह, पंकज बिहारी ,दिलीप सिंह ,अंजन कुमार झा सहित दशम, एकादश और द्वादश के छात्र छात्राओं के साथ कर्मचारी रामानुज और सूरज मुख्य रूप से मौजूद थे।

उमाकांत साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चंदन,ब्यूरो चीफ,बाँका,(बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education