Bounsi News: लोक आस्था का महापर्व छठ पर भी दिखा महंगाई का असर

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। इस बार छठ पर्व पर महंगाई की मार पड़ रही है। पूजन सामग्री के दाम करीब 20 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं। हालांकि, लोगों का कहना है कि महंगाई कितनी भी ज्यादा हो पूजा करना भी तो जरूरी है। हालांकि इस बार छठ पूजा पर महंगाई का असर दिखाई दिया। पूजन सामग्री के मूल्य में 10 से 20 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है। पूजन सामग्री पर महंगाई की मार के बाद भी लोग छठ पर्व को पूरी श्रद्धा व उल्लास के साथ मना रहे हैं। शहर की एक दुकान पर पूजन सामग्री खरीदने पहुंची शांति देवी ने बताया कि 10 वर्षों से वह यह व्रत कर रही हैं। सामग्री के दाम भले ही बढ़ गए हैं, लेकिन व्रत करना भी तो जरूरी है। अपने बजट के अनुसार सामग्री खरीदकर छठ पूजा करेंगे। लोक आस्था का महापर्व छठ को लेकर बौंसी मुख्य बाजार में चहल-पहल बढ़ गई है। शहर में दर्जनों की संख्या में अस्थायी दुकानें एवं छठ का बाजार सज गया है। जहां मिट्टी के बर्तन,दीये, बांस के बने सूप,दउरा, आम की लकड़ी से 


लेकर फल व पूजन सामग्री की दुकानों से पूरा बाजार भरा हुआ है। छठ पूजा में महंगाई का भी असर साफ दिख रहा है। छठ पर्व के सामानों में 15 से 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। पर्व को लेकर लोग सूप,दउरा समेत अन्य सामानों की खरीदारी कर रहे है। वहीं, सूप खरीद रहे एक श्रद्धालु ने बताया कि छठ पर्व को लेकर वह सूप और पीतल के बर्तन खरीदने आये थे, लेकिन वो काफी महंगा मिला रहा है। पीतल साढ़े नौ सौ रुपये प्रति किलो बाजार में बिक रहा है, तो सूप और दउरा के दाम भी काफी बढ़े हुए है. जहां पहले एक छोटा सूप 50 से 55 रूपए में मिल जाता था वो अब 70 से 80 रूपए में मिल रहे है। दउरा के दामों में भी काफी वृद्धि हुई है। बाजारों में दउरा 120 से 180 रुपये में मिल रहे हैं। श्रद्धालुओं ने बताया कि छठ शुद्धता और पवित्रता का पर्व है। इसे लेकर लोग खरीदारी कर रहे है। वहीं एक श्रद्धालु ने बताया कि, इस बार बाजार में पूजा सामग्री काफी महंगा मिल रहा है। लेकिन बात आस्था की है इसलिए महंगा ही सही खरीदारी करना मजबूरी है। इधर सूप और दउरा बेच रहे दुकानदार ने बताया कि, छठ पर्व को लेकर सूप और दउरा का दाम ऊपर से ही बढ़ा दिया है। जिसके कारण महंगा बेच रहे है। कुछ स्थानीय दुकानदारों ने यह भी बताया कि जो सामग्री कोरोना से पहले ₹50 से ₹70 के बीच बिका करती थी वह अब ₹80 से ₹100 के बीच हो गई है। ऐसे में गरीब किसान एवं मध्यम वर्ग के लोगों को अच्छी खासी दिक्कतें सामने आ रही है।

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education