Rewari News : स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों का रिकॉर्ड ढूंढने की सराहना की


ग्राम समाचार न्यूज : हरियाणा : गुमनाम रह गए स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान दिलवाने के लिए सघर्षरत श्री भगवान फौगाट ने भारत सरकार के सस्कृति मत्रालय के उस कदम कि सराहना की है जिसके तहत स्वतंत्रता सग्राम के गुमनाम नायकों का रिकॉर्ड एकत्रित करने के लिए कारवाई शुरू की गई है इस काम के लिए देश के विभिन्न विश्व विधालयों के इतिहासकारों को भी दायित्व दिया गया है इस प्रकिया के बाद देश को आजाद कराने में जिन वीर सपूतों ने योगदान दिया गया था उन सबका रिकॉर्ड इतिहास एकत्र होगा यह कदम आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में सराहनीय कदम है. 

हरियाणा के ऐसे नायकों का रिकॉर्ड इतिहास को एकत्र करने का दायित्व चौधरी बंसीलाल यूनिवर्सिटी के इतिहास विभागाध्यक्ष रवि प्रकाश को दिया गया है जिनको आफिस जाकर फौगाट द्वारा राज्य के ऐसे नायकों का रिकॉर्ड आजाद हिद फौज नामिनल रोल राष्ट्रीय अभिलेखागार सौपा है जिससे इतिहास विभाग फौगाट को एक आभार पत्र दिया गया है जिसमें लिखा है कि जैसा कि आपको विदित है कि विश्व विधालय के इतिहास विभाग में विभागाध्यक्ष डा रवि प्रकाश जी को सस्कृति मत्रालय भारत सरकार की ओर से आजादी के गुमनाम नायकों का जीवन वरत सग्रह करने का दायित्व दिया गया है ऐसा काम ग्रामीण परषटभूमि में उपस्थित होकर भले ही दुष्कर् न हो कितू  सरल व सुलभ भी नहीं है लेकिन आपके अमूल्य सहयोग व योगदान से विश्व विधालय के इतिहास विभाग को सौपा गया काम सरल हो गया है आपने आजाद हिद फौज से संबंधित जो महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई वह सराहनीय है अतः विश्व विधालय का इतिहास विभाग आपके इस अविस्मरणीय काम हेतु आपका आभार व्यक्त करता है

श्री भगवान फौगाट द्वारा यह भी बताया गया कि राष्ट्रीय अभिलेखागार कार्यालय में उपलब्ध हजारों मोटे मोटे आजाद हिद फौज नामिनल रोल रजिस्टरों में जवानों का पता द्वितीय विश्व युद्ध समय का पाया जाता है अतः गुमनाम रह गए स्वतंत्रता सेनानी होने का अध्ययन करना काफी मुश्किल रहता है अगर उनको पजाबं हिमाचल हरियाणा के द्वितीय विश्व युद्ध अग्रेजी सेना शहीद जवानों कि युनिट आर्मी नमबर नाम पता मिल जाए उससे वह काफी जवानों का रिकॉर्ड आजाद हिद फौज को ढुढने में सफल हो सकतें है इसलिए वह इन प्रदेश के पत्रकारों समपादको छायाकारो से समाचार दिखाने के लिए अनुरोध करतें आ रहें हैं ताकि उनके परिवारों या प्रदेश प्रशासन से यह जानकारियां मिले एवं वह देश के इतिहासकारों से भी यह अनुरोध करतें हैं कि वह गुमनाम रह गए स्वतंत्रता सेनानियों का रिकॉर्ड आजाद हिद फौज नामिनल रोल राष्ट्रीय अभिलेखागार कार्यालय से ढुढने में कड़ी मेहनत करें. 

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education