Pathargama News: संदिग्ध अवस्था में एक युवक की मौत






ग्राम समाचार, पथरगामा ब्यूरो रिपोर्ट:- बीते 25 फरवरी शुक्रवार की रात्रि पथरगामा थाना क्षेत्र अंतर्गत सुरनिया गांव में विमल सिंह के छोटे बेटे राहुल सिंह की लाश घर में पड़े चौकी पर पाए जाने से जहां उसके परिजनों पर गम का पहाड़ टूट गया वही गांव में सनसनी फैल गई| लाश के गले में साड़ी लपेटा हुआ था वही गले में दबाव के निशान भी थे| पंचायत के मुखिया के द्वारा पथरगामा थाना में दिए गए सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए थाना प्रभारी बलिराम रावत एवं पुलिस निरीक्षक बलवीर सिंह ने दल बल के साथ पहुंचकर लाश को पंचनामा के बाद अपने कब्जे में करते हुए लाश को अंत्यपरीक्षण हेतु सदर अस्पताल गोड्डा भेज कर  मामले की तहकीकात में जुट गए| मृतक के पिता विमल सिंह ने बताया कि 10-15 वर्षों से गांव के ही बैकुंठ सिंह से भूमि विवाद चल रहा था जिसको लेकर 8 माह पूर्व अनुमंडल कोर्ट में मामला दर्ज कराया था| मामला आज भी कोर्ट में चल रहा है| मृतक के पिता ने बताया कि घटना के दिन घर में उसका छोटा बेटा घर में मौजूद था| वह और उसकी पत्नी अपने दूसरे स्वर्गवासी बेटे की नवजात बेटी की छठीछीला में बौसी गया था| मौके का फायदा उठाकर बैकुंठ सिंह और उसके छ;परिवार वालों ने मिलकर उसके घर के पिछवाड़े से जो कि खुला हुआ है से घुसकर उसके बेटे की गला दबाकर हत्या कर दी और लाश के गले में साड़ी लपेट कर लाश को घर के अंदर चौकी पर सुला दिया| उसने बताया कि शाम 6:00 बजे के आसपास वहीं से उसने अपने छोटे बेटा को फोन किया तो उसने फोन नहीं उठाया तब उसने अपने चाचा अमीन सिंह को फोन किया परंतु उनके घर कुटुंब आ जाने के चलते घर पर नहीं जा सके| तब उसने समस्तीपुर में रह रहे अपने बड़े बेटे को फोन किया तो उसके बेटे ने किसी अन्य संबंधी को फोन कर घर जाकर हालात देखने को कहा| जब उसका संबंधी घर जा कर देखा तब घटना का खुलासा हुआ| घटना को लेकर मृतक के पिता विमल सिंह ने पथरगामा थाना में गांव के ही बैकुंठ सिंह, परमिंदर सिंह, अमरिंदर सिंह और अभिनंदन सिंह सहित छह लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया है| पुलिस निरीक्षक बलवीर सिंह और थाना प्रभारी बलिराम रावत ने संयुक्त रूप से कहा कि मामले की तहकीकात गंभीरतापूर्वक जारी है, दोषी को बख्शा नहीं जाएगा| जल्द ही मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा| पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मरने के कारणों का खुलासा हो पाएगा|

अमन राज:-

Share on Google Plus

Editor - भूपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education