Chandan News: दुष्कर्म करने वाले नाबालिक आरोपी ने शादी कर खोली स्थानीय नेताओं की पोल

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। ज्ञात हो कि चांदन प्रखंड के गौरीपुर पंचायत में गत शुक्रवार को तीन लड़को द्वारा तीन लड़की के साथ दुष्कर्म करने का मामला आया था। और इसे पिडित के द्वारा दिए गए आवेदन पर खबर छपी थी।जिसका मामला चांदन थाना अध्यक्ष रविशंकर कुमार, बेलहर एसडीपीओ प्रेमचंद सिंह कटोरिया इंस्पेक्टर अनील कुमार, के संयुक्त में जांच की गई और जांच में जहां झूठा पाया गया था। और वो मामला स्थानीय  प्रतिनिधियों के सामने छेड़छाड़ तक सीमित हो कर रह गया और मामले को रफा-दफा कर दिया। वही रविवार को पूरा मामला पंचायत स्तर पर समाप्त करने की बात सामने आई थी।औऱ अब सोमवार को उस मामले में एक नया मोड़ सामने आ गया। हद तो तब देखा गया उसी दुष्कर्म मामले का एक नाबालिक आरोपी पारस कुमार ने उसी नाबालिक एक लड़की से उसी जंगल मे फिर बुलाकर शादी कर लिया है। जिसकी 

चर्चा अब लगातार हो रही है। इतना ही नही यह भी चर्चा है कि अन्य दो लड़के भी शादी करने की तैयारी कर रहे है। अब यह बात खुल कर सामने आ गयी है कि शुक्रवार को भी तीनों लड़को को ग्रामीणों ने तीनों लड़की के साथ आपत्तिजनक हालत में देखा था। और उसी बात को लेकर जब लड़को को पकड़ने का प्रयास किया तो सभी मोटरसाइकिल छोड़ कर भाग गया। लेकिन इन लड़को को बचाने के लिए मुखिया पति,सरपंच पति और पूर्व सरपंच पति ने परिवार वाले पर दवाव बना कर मामले को पूरी तरह झूठ बनाने का प्रयास किया।जिसकी पोल अब खुल गयी। जबकि एक लड़के ने अपनी प्रेमिका से शादी कर लिया। हालांकि दोनों नाबालिक प्रेमी जोड़ा लड़की के घर गौरीपुर में है। वाद विवाद होने के कारण दोनों के परिजन अपने अपने अस्तर से विचार कर रहे हैं। इसी मामले में प्राप्त  सबूत पर न्यूज़ द्वारा प्रकाशित किया गया था जिसे प्रशासन के सामने सबूत छुपा कर प्रेस मीडिया को ही दोषी साबित करने का प्रयास किया गया था। जिससे अब पुलिस प्रेम प्रसंग का मामला बता रहे हैं।

उमाकान्त साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education