Bounsi News: आशा बहनों में आक्रोश, 17 फरवरी से अपनी 6 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की तैयारी

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। बिहार चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के बैनर तले बौंसी प्रखंड की आशा बहनों की एक बैठक रेफरल अस्पताल में की गई, जहां आशा कार्यकर्ताओं ने अपनी एकजुटता का परिचय दिया तथा सरकार के प्रति अपने आक्रोश को जताया। स्वास्थ्य कार्यकर्ता आशा प्रखंड बौंसी की जिला मंत्री कुसुम बाला सिन्हा ने पत्रकारों को बातचीत के क्रम में बताया कि सरकार और स्वास्थ्य विभाग के ढुलमुल रवैया के कारण आशा कार्यकर्ताओं की स्थिति दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है इसलिए हम सभी आशा बहनों ने मिलकर यह निर्णय लिया है कि दिनांक 17 फरवरी से हम लोग अपनी 6 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे।

क्या है 6 सूत्री मांग

1.
(क) आशा कार्यकर्त्ताओं-फैसिलिटेटरों को देय प्रोत्साहन मासिक पारितोषिक राशि का अद्यतन भुगतान सहित भविष्य में माह के 10 तारीख तक नियमित भुगतान किया जाये। भुगतान में एकरूपता पूर्ण पारदर्शी किया जाये।

(ख) आशाओं के भुगतान में व्याप्त भ्रष्टाचार कमीशनखोरी पर सख्ती से रोक लगायी जाये।

2. मासिक पारितोषिक शब्द का मासिक मानदेय किया जाये और इसे बढ़ाकर 10,000/- रूपया किया जाये। स्थापना मद का 19 के वित्तीय वर्ष से मासिक 1000/- रूपया पारितोषिक का बकाया राशि का भुगतान जल्द से जल्द किया जाये।

3.कोरोना कार्यों के लिए सभी आशाओं-फैसीलिटेटरों को 10,000/
कोरोना भत्ता भुगतान किया जाये।

4.
(क) आशाओं को देय पोशाक (साड़ी) की राशि का अद्यतन भुगतान किया जाये और पोशाक में साड़ी के साथ ब्लाउज, पेटीकोट तथा उनी कोट की भी व्यवस्था की जाये।

(ख) फैसीलिटेटर के लिए पोशाक का निर्धारण और उसकी आपूर्ति की व्यवस्था किया जाये।

(ग) फैसीलिटेटरों को 20 दिन की जगह पूरे माह का भ्रमण भत्ता (SVC) भुगतान किया जायेगा।

5.कोरोना से (ज्ञात-अज्ञात) मृत आशाओं व फैसीलिटेटरों को राज्य योजना का 4 लाख और केन्द्रीय योजना का 50 लाख रूपये के बीमा राशि का शीघ्र भुगतान किया जाये। 

6.जनवरी 2019 के समझौते के अकार्यान्वित बिन्दुओं को लागू किया जाये।

मौके पर बौंसी प्रखंड आशा कार्यकर्ता संघ की कोषाध्यक्ष अनीता झा ने बताया की चुनाव ड्यूटी और कोरोना काल में किये गए कार्य का भी हमें अभी तक भुगतान नहीं किया गया है तथा आशा बहनों के लिए अस्पताल परिसर में रहने की कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे में आशा कार्यकर्ताओं को बहुत परेशानी उठानी पड़ती है। आशा संघ की जिला मंत्री कुसुम वाला सिन्हा ने बताया कि सरकार की तरफ से आशा बहनों को रहने के लिए कक्ष दिया गया था, किंतु अब उसमें एक्स-रे रूम बना दिया गया है। ऐसे में अस्पताल परिसर में रहने के लिए भी बहुत परेशानी उठानी पड़ती है। मौके पर आशा संघ बौंसी की जिला मंत्री कुसुम वाला सिन्हा, उपाध्यक्ष पूनम देवी, कोषाध्यक्ष अनीता झा, लक्ष्मी कुमारी रजक, वंदना कुमारी, रानी देवी,सकुरा बेगम, विनीता देवी, सुप्रिया कुमारी, नीलम देवी, सोनी देवी, अनार देवी, सिंपी कुमारी, अनोखा देवी, स्नेह लता सहित कई आशा बहने मौजूद थे।

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education