Rewari News : भाजपा सेवा प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक सतीश खोला ने अंत्योदय मेले का शुभारंभ किया



रेवाड़ी, 3 दिसंबर : हरियाणा सरकार अंत्योदय की भावना से कदम उठाते हुए समाज के अंतिम व्यक्ति को सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए कृत संकल्प है। इसी श्रंृखला में आजादी अमृत महोत्सव के तहत अंत्योदय मेले जनसेवा को समर्पित हो लगाए जाए रहे हैं। यह बात भाजपा सेवा प्रकोष्ठï के प्रदेश संयोजक सतीश खोला ने कही। वे शुक्रवार को नगरपरिषद परिसर में दो दिवसीय मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत आयोजित अंत्योदय मेले का  शुभारंभ कर रहे थे। अंत्योदय मेले के शुभारंभ अवसर पर उन्होंने विभिन्न विभागों की ओर से लगाई गई स्टॉल का अवलोकन किया तथा आमजन से प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने का आह्वïान भी किया।



अंत्योदय मेले के पहले दिन उद्घाटन अवसर के मुख्यातिथि सतीश खोला ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार समाज के अंतिम व्यक्ति तक जरूरी सेवाओं का लाभ पहुंचाने के लिए प्रभावी रूप से कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत हर पात्र लाभार्थी को योजनाओं का लाभ मिले इसके लिए सरकार द्वारा मेले आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल पं.दीन दयाल उपाध्याय के सपने को साकार करते हुए परिवार पहचान पत्र के माध्यम से चिह्निïत किए गए जरूरतमंद आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वावलंबी बनाने की दिशा में सकारात्मक कदम उठा रहे हैं और अंत्यादेय मेले के माध्यम से सरकार की योजनाओं का प्रभावी रूप से क्रियांवयन करते हुए पात्र लोगों को लाभांवित किया जा रहा है।


मंडल आयुक्त व डीसी ने किया मेले का अवलोकन :
अंत्योदय मेले के पहले दिन गुरूग्राम मंडल के आयुक्त राजीव रंजन ने उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के साथ अंत्योदय मेले का अवलोकन किया। आयुक्त राजीव रंजन ने कहा कि जिलाभर में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत परिवार पहचान पत्र से चिह्निïत किए गए जरूरतमंद लोगों तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से अंत्योदय मेलों का आयोजन किया जा रहा है। सरकार की सोच है कि अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचे इसके लिए खण्ड स्तर पर मेले आयेाजित करने का निर्णय लिया गया है।
आयुक्त राजीव रंजन ने मेले में लगी विभिन्न विभागों की योजनाओं को दर्शाती स्टॉल का अवलोकन किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से रूबरू होते हुए विभागीय स्तर पर प्रदत्त सेवाओं को तत्परता से सरल तरीके से योजना का लाभ पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि जनसेवा को समर्पित हो मौजूदा सरकार के सात साल बेमिसाल रहे हैं और अंत्योदय की भावना से सरकार उल्लेखनीय कदम उठा रही है। अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के प्रभावी रूप से क्रियांवयन के लिए प्रदेश भर में अंत्योदय मेलों का आयोजन कर लाभपात्रों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से सीधे तौर पर लाभांवित किया जा रहा है।
  डीसी यशेन्द्र सिंह ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत की दिशा में बढ़ते कदम में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना अहम है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत उन परिवारों को शामिल किया गया है जिनकी वार्षिक आय एक लाख रुपए से कम हैं और उनकी आय को एक लाख 80 हजार रुपए तक पहुंचाना लक्ष्य रहेगा। सरकार की ओर से तीन फेज में पात्रता निर्धारित की गई है और उसी अनुरूप योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों को अंत्योदय मेले से दिया जा रहा है।
नगर परिषद परिसर में आयोजित मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेले में नगर परिषद की चेयरपर्सन पूनम यादव सहित नगर पार्षदों ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई स्टॉल का अवलोकन किया। मेले में पहुंंचने पर नोडल अधिकारी एवं अतिरिक्त उपायुक्त आशिमा सांगवान ने आयुक्त राजीव रंजन व उपायुक्त यशेन्द्र सिंह का स्वागत किया। एडीसी आशिमा सांगवान ने अंत्योदय मेले में लगी सभी विभागों की जरूरी सेवाओं से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि 4 दिसंबर को मेले के दूसरे दिन हरको बैंके के चेयरमैन डॉ अरविंद यादव मेले का शुभारंभ करेगें।
इस मौके पर डीडीपीओ एचपी बंसल, जिला समाज कल्याण अधिकारी रेनू बाला, जिला रोजगार अधिकारी राजेश सांगवान, जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी दिनेश कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education