Rewari News : देवउठनी एकादशी के साथ विवाह शादियों का सीजन शुरू, विवाह शादियों का मुहूर्त शुरू होते ही बाजार में लौटी रौनक



देवउठनी एकादशी के साथ आज से विवाह शादियों का सीजन भी शुरू हो गया है आज से शादियों की शहनाई गूंजेगी. विवाह शादी के सीजन शुरू होते ही बाजार में काम धंधा भी शुरू हो गया है कोरोना के कारण लंबे समय से बंद पड़ी अर्थव्यवस्था अब धीरे-धीरे पटरी पर आने लगी है. दीपावली से बाजार में रौनक शुरू हुई और काम धंधा चलने लगा उसके बाद अब विवाह शादियों का सीजन भी शुरू हो गया है जिसके साथ ही बाजार में रौनक लौटने लगी है. ब्यूटी पार्लर आदि का काम भी शुरू हो गया है. देवउठनी एकादशी का आज पहला सावा है. दुकानदारों की मानें तो काम कुछ फीका नजर आ रहा है. हालांकि करोना अब कम हो गया है और सब पाबंदियां हट गई है फिर भी काम में उतनी तेजी नहीं आई जितनी आनी चाहिए थी. 20 साल से दूल्हे की कार सजाने वाले फ्लावर डेकोरेटर्स राजेश सैनी की माने तो देवउठनी एकादशी पर काम शुरू हो गया है लेकिन काम थोड़ा फीका लग रहा है क्योंकि अभी लोग करोना की मार से उभरे हैं और काम धंधे भी धीरे-धीरे शुरू होने लगे हैं फिलहाल आज उन्होंने 9 गाड़ियों की बुकिंग ली है जिनमें से 7 गाड़ियां सजा दी है बाकी 2 गाड़ियां और आनी बाकी है. राजेश सैनी ने बताया कि गाड़ी सजावट का काम वे पिछले कई वर्षों से कर रहे हैं गत दो वर्ष कोरोना के कारण सब चीजें बंद पड़ी थी अब पाबंदीया हटी है तो काम भी शुरू हुआ है लेकिन देवउठनी ग्यारस पर उतना काम नहीं है जितना होना चाहिए. 



सैनी ने बताया कि कार सजावट के लिए 21 सौ से लेकर 11 हजार तक रखी गई है. जबकि वरमाला 11 सौ से लेकर 21 सौ तक है साथ ही नेम प्लेट भी बनाने का काम चल रहा है जिसकी कोस्ट 200 रखी गई है. देवउठनी एकादशी पर शहर के अति व्यस्ततम मोती चौक बाजार में लोगों की खासी भीड़ रही पूरे दिन जाम की स्थिति होने के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा संडे बाजार लगने के कारण काफी भीड़ रही और पुलिस प्रशासन की ओर से कोई व्यवस्था नहीं होने के कारण जाम लगा रहा.

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education