Rewari News : किसान आंदोलन को ग्यारह माह पूरे होने पर किसानो ने मोर्चो पर किया विरोध प्रदर्शन 



केंद्र की बीजेपी सरकार द्वारा किसानो एवं मजदूरों के हितो के विरुद्ध लागू किये गए तीन काले कृषि कानूनों को वापिस किये जाने एवं एम एस पी का कानून बनाये जाने के समर्थन मे गत ग्यारह महीनों से देश का किसान देश के हर हिस्से मे विशेषतया दिल्ली की सीमाओं पर सिंधु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर, गाजी पुर बॉर्डर, शाहजहापुर बॉर्डर, धाँसा बॉर्डर पर सयुंक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर ग्यारह महीनों से शांतिपूर्वक आंदोलनरत है!     


            

इस ऐतिहासिक किसान आंदोलन की चल रही आंदोलांत्मक गतिविधियों के परिवेश मे आज सयुंक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर जिला रेवाड़ी सयुंक्त मोर्चे के जिला अध्यक्ष कॉमरेड राजेंदर सिंह एडवोकेट की अगुवाई मे सयुंक्त मोर्चे के घटक  संगठनों भारतीय किसान यूनियन चढूनी के जिला प्रधान समय सिंह, जय किसान आंदोल के जिला प्रभारी अभय सिंह फिदेड़ी, आल इण्डिया किसान-खेत मजदूर संगठन के जिला अध्यक्ष कॉमरेड रामकुमार, भारतीय किसान यूनियन के अशोक मुस्सेपुर के नेतृत्व मे गंगायचा टोल प्लाजा पर काले झंडो के साथ किसानो ने तीनो काले कृषि कानूनों के विरुद्ध केंद्र और प्रदेश की बी जे पी सरकारों के किसानो के प्रति तानाशाही रवैये की विरुद्ध जोरदार प्रदर्शन किया गया!  


                    

आज की गंगायचा टोल पलाजा  के किसानो के प्रदर्शन मे टोल पलाजा संघर्ष कमेटी के अध्यक्ष टाइगर जोगेन्दर सिंह, कुलदीप सिंह बुढ़पुर, कॉमरेड विजय सिंह, पृथ्वी सिंह, महावीर चौधरी, ईश्वर सिंह महलावत, सवाचंद नम्बरदार रोझुवास, भीम सिंह, जीत सिंह चौधरी, नरेंदर सिंह, कृष्ण कुमार, नरेश, रमेश नम्बरदार, रामकुमार, कॉमरेड बलराम, सतपाल चौधरी आदि किसानो ने भाग लिया!!



शाहजहांपुर-खेड़ा बार्डर पर किसान आंदोलन के ग्यारह महीने पूरे होने पर संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करते हुए किसान नेता.

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education