Chandigarh News : करनाल के तरावड़ी में स्थापित होगा एफआरके प्लांट- सहकारिता मंत्री

चंडीगढ़, 28 सितंबर- हरियाणा के सहकारिता मंत्री डाॅ बनवारी लाल ने कहा कि हरियाणा राज्य सहकारी आपूर्ति एवं विपणन प्रसंघ लिमिटेड (हैफेड) द्वारा फोर्टीफाइड राइस कर्नेल (एफआरके) के उत्पादन के लिए करनाल जिला के तरावड़ी में एक प्लांट स्थापित किया जाएगा। इसी प्रकार, चरणबद्ध तरीके से हैफेड द्वारा राज्य के सभी जिलों में फलैगषिप स्टोर खोले जाएंगें। इसके अलावा, हैफेड द्वारा आॅनलाईन मार्किटिंग/षाॅपिंग प्लेटफार्म पर अपने उत्पादों की बिक्री के साथ-साथ अपने स्वयं के प्लेटफार्म को स्थापित करने पर भी विचार किया जा रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा उपभोक्ताओं तक विभिन्न तरीकों के माध्यम से हैफेड के उत्पादों को पहुंचाया जा सकें।


 

उन्होंने यह जानकारी आज पंचकूला में हैफेड के अधिकारियों की एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी और इस समीक्षा बैठक के दौरान संबंधित अधिकारियों को विभिन्न दिषानिर्देष भी दिए। समीक्षा बैठक मंे हैफेड के चेयरमैन कैलाष भगत व सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौषल भी उपस्थित थे। 



एफआरके प्लांट होंगे स्थापित :  बैठक में बताया गया कि हैफेड द्वारा फोर्टीफाइड राइस कर्नेल (एफआरके) के उत्पादन के लिए करनाल जिला के तरावड़ी में एक प्लांट स्थापित किया जाएगा। इस प्लांट के माध्यम से उत्पादित होने वाला फोर्टीफाइड राइस कर्नेल को आईसीडीएस, एमडीएम और पीडीएस के माध्यम से आपूर्ति किया जाएगा। इस प्लांट को लगाने के लिए सरकार से मंजूरी ली जाएगी ताकि इस पर आगामी कार्य किया जा सकें। बैठक में इस प्रकार के और भी प्लांट राज्य के अन्य चिन्हित स्थानों पर भी लगाए जाने के संबंध में चर्चा की गई जिनमें तरावड़ी व रतिया इत्यादि षामिल हैं। एफआरके एक पौश्टिक आहार का रूप है जिसमें विटामिन, फोलिक एसिड तथा आयरन इत्यादि होते हैं। 


हल्दी प्लांट की प्रक्रिया षुरू : बैठक के दौरान सहकारिता मंत्री को बताया गया कि हल्दी उत्पादक किसानों को बढावा देने के दृश्टिगत यमुनानगर के रादौर में हल्दी पाउडर प्लांट, हल्दी आॅयल एक्सर्टेक्षन प्लांट और कोल्ड स्टोरेज की स्थापना के लिए हैफेड द्वारा प्रक्रिया षुरू कर दी गई हैं। इसके अलावा, अन्य मसालों जैसे की मिर्च, धनिया इत्यादि के प्रसंस्करण के लिए इस प्लांट में सुविधा भी होगी। ऐेसे ही, हल्दी आॅयल के लिए कोल्ड रूम की व्यवस्था भी होगी। 


रेवाडी के जाटुसाना में होगी फलोर मिल की स्थापना : बैठक में बताया गया कि जिला रेवाड़ी के जाटूसाना में हैफेड के बारले माल्ट प्लांट के परिसर में ही हैफेड द्वारा प्लोर मिल की स्थापना की जा रही हैं और यह प्लांट आधुनिक तकनीक से लैस होगा जिसमें आयातित मषीनरी लाइन के साथ-साथ 5 हजार एमटी के साइलोज व कन्वेयर इत्यादि भी होंगे और अप्रैल, 2022 तक इस प्लांट के भवन व अन्य सिविल कार्याें को पूरा कर लिया जाएगा। ऐेसे ही, बैठक में बताया गया कि दिल्ली में हैफेड द्वारा कारपोरेट आफिस बनाया जा रहा है जिसका कार्य आगामी नवंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। 


रेवाडी के रामपुरा में लगेगी तेल मिल : बैठक में बताया गया कि जिला रेवाडी के रामपुरा में नई तेल की मिल स्थापित की जाएगी और वर्तमान रेवाड़ी व नारनौल की तेल मिलों को अपग्रेड करने का कार्य किया जाएगा। बैठक में बताया कि आगामी दिसंबर माह में नई तेल की मिल का षिलान्यास करवाया जाएगा ताकि सरसों की खेती करने वाले किसानों को अधिक से अधिक लाभ हो सकें।


मेगा फूड पार्क में सिविल, प्लांट व मषीनरी कार्य जनवरी, 2022 तक होगा पूरा : बैठक में सहकारिता मंत्री को बताया गया कि रोहतक के आईएमटी में एक मेगा फूड पार्क स्थापित किया जा रहा हैं। इसके तहत कोर प्रोसैसिंग सेंटर और प्राईमरी प्रोससिंग सेंटर होंगे। जिसके तहत कोर प्रोससिंग सेंटर रोहतक में होगा तो वहीं प्राईमरी प्रोससिंग सेंटर रेवाडी के बावल, जींद के नरवाना और यमुनानगर के मानकपुर में होगा। इन सेंटरों में विभिन्न सुविधाएं होंगी जैसे कि राॅ मैटिरियल और फिनिंषिड गुडस वेयरहाउस, साइलोज, मल्टीपर्पज कोल्ड स्टोरेज, डीप फ्रीजर, आईक्यूएफ प्रोससिंग लाईन, स्टीम जेनरेषन बायलर, मैटिरियल हैंडलिंग उपकरण, क्वालिटी कंट्रोल एंड फूड टेस्टिंग लैब, ड्राई वेयरहाउस, कोल्ड स्टोर, सोर्टिंग एंड ग्रेडिंग यार्ड, मिल्क चिलिंग यूनिट और दूध के लिए स्टोरेज इत्यादि षामिल है। बैठक में बताया गया कि मेगा फूड पार्क रोहतक में सिविल कार्य के साथ-साथ प्लांट व मषीनरी इत्यादि का कार्य भी आगामी जनवरी, 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा। 


हैफेड की चीनी मिल को घाटे से उभारा जाएगा : बैठक में असंध की हैफेड चीनी मिल को घाटे से उबारने के लिए समीक्षा की गई और संबंधित अधिकारियों द्वारा बताया गया कि मिल की क्षमता बढाने व आधुनिकीकरण करने के साथ-साथ चीनी रिफायनरी, डिस्टलरी और बायो सीएनजी इत्यादि को स्थापित करने पर विचार चल रहा है, इस पर, सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौषल ने कहा कि हैफेड एक अच्छी संस्था हैं और प्रणालीबद्ध सुधार करने की आवष्यकता हैं। श्री कौषल ने अधिकारियों को निर्देष देते हुए कहा कि बायो-सीएनजी प्लांट लगाने के लिए पहले मूल्यांकन किया जाए और इसके लिए एक कमेटी का गठन करें। श्री कौषल ने अधिकारियों को समयबद्ध निर्धारित तिथि व लक्ष्य आधारित तिथि के अनुसार सभी कार्यों को निपटाने के निर्देष भी दिए। 


हैफेड के गोदामों में लगेंगें सीसीटीवी कैमरे : इसी प्रकार, बैठक मेें बताया गया कि हैफेड के गोदामों में सीसीटीवी सिस्टम को लगाने की प्रक्रिया जारी है और जल्द ही हैफेड अपने गोदामों में सीसीटीवी कैमरों को स्थापित कर देगा। बैठक में बिक्री के संबंध में चर्चा करते हुए सहकारिता मंत्री को बताया गया कि हैफेड की बिक्री लगातार बढ रही है जिसके तहत वर्श 2015-16 में 73.61 करोड़, वर्श 2016-17 मेें 74.49 करोड, वर्श 2017-18 में 96.15 करोड, वर्श 2018-19 में 267.03 करोड, वर्श 2019-20 में 340.98 करोड और वर्श 2020-21 में 408.02 करोड की बिक्री हैफेड की रही है।


हैफेड द्वारा षुरू की गई कई नई गतिविधियां : बैठक में बताया गया कि हैफेड द्वारा हाल ही कई गतिविधियों को षुरू किया गया है जिसके तहत किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) को मार्किटिंग सहयोग हैफेड द्वारा दिया जा रहा हैं और इस सहयोग के अंतर्गत हैफेड के बिक्री आउटलेट के माध्यम से षहद, षहद आधारित उत्पाद, सिरका और हल्दी इत्यादि की बिक्री हो रही है। इसी कडी में हैफेड ने गुड, चैकर, पोहा, बाजरा जीरा बिस्कुट, ज्वार तिल बिस्कुट, चना फलैक्सड बिस्कुट, रोस्टेड ज्वार नमकीन, रोस्टेड बाजरा नमकीन इतयादि की भी षुरूआत की है बैठक में हैफेड के एमडी ए. श्रीनिवास और सचिव रोहित यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education