Chandan News: दो दिनों के रिकॉर्ड बारिश से जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त,कई पुल पुलिया हुआ ध्वस्त

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। जिले में हो रही रिकॉर्ड तोड़ बारिश को लेकर मौसम विभाग ने 48 घंटे तक अलर्ट जारी किया।तेज हवा के साथ वज्रपात की संभावना जताई जा रही है। बांका जिला सहित चांदन कटोरिया प्रखंड क्षेत्रों के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश  होने की  खबर है। भारी बारिश से आम जनजीवन पर व्यापक असर पड़ा है। और लोगों की जिंदगी अस्त व्यस्त हो गई है। पशु घर में बंद है उन्हें भी चारा नहीं मिल रहा है। इतनी बारिश हुई है जो पिछले 33 वर्षों का रिकॉर्ड टूट चुका है। बाढ़ ऐसी स्थिति उत्पन्न हो गई है।बता दें कि प्रखंड क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों में दो दिनों से बारिश हो रही है। वहीं कटोरिया प्रखंड 

के जयपुर थाना क्षेत्र के कधार नदी पर बने पुल के ऊपर से पानी का उफान चल रहा है। एक ओर चांदन प्रखंड क्षेत्र के भेलवा सूइया मुख्य मार्ग के उपर से पानी बहने लगा है जिससे लोगों को आने जाने के घंटो इन्तजार करना पड़ रहा है। वहीं कटोरिया चांदन मुख्य सड़क चांदन  पुल पर भी नदी के ऊपर से पानी बह रहा है। ओर तो ओर चांदन प्रखंड के बिरनीया पंचायत के प्रखंड मुख्यालय से जमनी गांव जाने वाले सम्पर्क इस भारी बारिश से पुल पुरी तरह से टुट कर बह गया। जानकारी के 

अनुसार विगत आठ पर्ष पहले बनीं ए पुल का पाया ध्वस्त हो चुका था। जिसे लेकर बिरनिया पंचायत के ग्रामीणों ने बेलहर विधायक मनोज यादव को अवगत कराया गया था। आश्वासन भी मिला पर उस पुल का मरम्मत नहीं हो सकी। जिसके फल स्वरूप आज के भारी बारिश के पानी के बहाव में पुल का नामो निशान लेकर बह गया। जिससे अब चांदन प्रखंड क्षेत्र कई गांवों के लोगों भारी कठिनाई उत्पन्न हो गई है। मौसम विभाग की माने तो 2 दिनों में 35 : 80 मिली मीटर बारिश हुई है जो सामान्य से अधिक है इस बारिश से धान की फसल को भी काफी नुकसान पहुंचा है।

उमाकान्त साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education