expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


चांदन न्यूज: मुस्लिम समुदाय के महापर्व बकरीद,इद उल जूहा शांति सौहार्द में मनाया

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। प्रखंड के चांदन,असोढा,जिरोपहडी,चिहूटजोर इत्यादि गांवों के सभी मुस्लिम समुदाय के लोगों ने बड़ी ही अकीदत व शांति सौहार्दपूर्ण में बकरीद पर्व मनाया गया इस पर्व को ईद उल अजहा या फिर ईद-उल-जुहा भी कहा जाता है इस्लाम में बकरीद का विशेष महत्व है इस्लामिक की मान्यता के मुताबिक हजरत इब्राहिम अलेह सलाम ने अपने बेटे हजरत इस्माइल अलेह सलाम को इसी दिन खुदा के 

हुक्म पर खुदा की राह में कुर्बान किया था तब खुदा ने उनके जज्बे को देखकर उनके बेटे को जीवन दान देकर और उसके जगह बकरे जवह होकर कुर्बानी हो गई थी इसी की याद में मुसलमान भाई बकरीद पर्व को मनाया जाता है यह पर्व हर मुसलमान गांव में धूमधाम से मनाया गया इस दिन लाचार वेवश, असहाय गरीबों पर खास ध्यान रखा जाता है कुर्बानी के बाद बकरे का गोश्त तीन हिस्सा किए जाते हैं इस तीन हिस्सों में खुद के लिए एक हिस्सा रखा जाता है एक हिस्सा पड़ोसियों और रिश्तेदारों को बांटा जाता है और एक हिस्सा गरीब और जरूरतमंदों को बांट दिया जाता है इसके जरिए मुस्लिम लोग पैगाम देते हैं कि वह अपने दिल के करीब 


चीज भी दूसरों के बेहतर के लिए अल्लाह की राह में कुर्बान कर देते हैं इस दिन बच्चे बूढ़े जवान सभी अच्छे-अच्छे लिबास पहनकर इस कोरोनावायरस की स्थिति में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए अपने अपने घरों में नमाज अदा कर एक दूसरे भाइयों को मुबारकबाद देते हुए देखा गया। वहीं बकरीद पर्व को लेकर चांदन थाना अध्यक्ष रवि शंकर कुमार, विडियो राकेश कुमार,एस आई मुखराम सिंह,सतीश कुमार पंजियारा, लगातार निगरानी करते देखा गया। जहां गरीब नवाज कमेटी के सदस्य के अलावा माशुक अंसारी,आलम अंसारी, यासीन अंसारी के लोगों का भरपूर सहयोग रहा। 

उमाकांत साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें