expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


चांदन न्यूज: शिक्षक नियोजन इकाई की अधिकारियों के साथ शिक्षकों के साथ बैठक

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। प्रखंड कार्यालय के आईटी भवन में बीडीओ दुर्गाशंकर की अध्यक्षता में नियोजन समिति की बैठक आयोजित की गई। इसमें मुख्य रूप से 12 जुलाई को शिक्षकों के नियोजन हेतु डाले गए आवेदन पत्रों की जांच पर विशेष चर्चा हुई। इसमें मुख्य रूप से बीडीओ दुर्गा शंकर, शिक्षक विनय कुमार और शिक्षक संजय केसरी ने उपस्थित पंचायत सेवक, शिक्षक सहित नियोजन समिति के अन्य सदस्यों को नियोजन करने के तरीके, उसमें जांच में लिए जाने  वाले कागजात और अन्य बिंदुओं के बारे में जानकारी दिया। जिससे नियोजन को बिना किसी आपत्ति के समाप्त किया जा सके। किसी भी तरह से विवाद से बचने के लिए क्या क्या करना है।इसपर उपस्थित अन्य सदस्यों को भी  बताया गया। प्रखंड में कुल 86 शिक्षकों के नियोजन के लिए डाले गए 5725 आवेदन की जांच उच्च विद्यालय चांदन के एक केंद्र पर एवं प्रोजेक्ट 

कन्या विद्यालय में दो अलग-अलग केंद्र बनाकर जांच कराई जाएगी। यह कार्य 12 जुलाई  को 10 बजे से शुरू कर दिया जाएगा ।इसमें सभी अभ्यर्थी शिक्षक उम्मीदवार को अपने मूल प्रमाण पत्र अंकपत्र और परिचय पत्र के साथ आना अनिवार्य होगा। इस संबंध में बीडीओ दुर्गाशंकर ने बताया कि नियोजन इकाई को कोरोनावायरस के नियम का पालन करते हुए पूरा करना है। साथ ही साथ किसी भी तरह की परेशानी होने पर उनसे संपर्क किया जा सकता है। उच्च विद्यालय चांदन में नियोजन इकाई के लिए पंचायत सचिव ब्रज मोहन राम जबकि पंचायती राज पदाधिकारी हरि मोहन कुमार दंडाधिकारी के रूप में नियुक्त रहेंगे। जबकि कन्या विद्यालय में अमरेंद्र मिश्रा और शंभू शरण पंचायत सचिव एवं  कल्याण पदाधिकारी भोला दास दंडाधिकारी के रूप में तैनात रहेंगे।मौके पर प्रख्णड के शिक्षक के साथ मुखिया संघ अध्यक्ष सुरेश यादव, मुखिया छोटन मंडल, मुखिया कार्तिक दास इत्यादि मौजूद थे।

उमाकांत साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें