expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : गर्मी के मौसम में ठण्डे पानी की निशुल्क सेवा पंजाबी बिरादरी व पंचनद का सराहनीय कार्य : अरविन्द यादव

गर्मी के मौसम को देखते हुए पंजाबी बिरादरी व पंचनद के संयुक्त तत्वावधान में शहर के ऐतिहासिक मोती चैक पर पीने के पानी की दो रेहड़ी का आज शुभारंभ किया गया। इस पुनीत कार्य का उदघाटन करते हुए मुख्यातिथि हरको बैंक के चेयरमैन डा. अरविन्द यादव ने कहा कि गर्मी के मौसम में निशुल्क ठंडे पानी की सेवा शुरू कर पंजाबी बिरादरी व पंचनद ने मिलकर रेवाड़ी में एक ओर सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोना काल में अस्पताल में भोजन पहुंचाना, काड़ा पिलवाना, निशुल्क एम्बुलेंस की सेवा, हरिद्वार जाकर अस्थि विसर्जन जैसे सेवा कार्य करके एक मिसाल कायम की है। 



क्योंकि गर्मी के मौसम में प्यासे को पानी पिलाने से बड़ा कोई पुण्य नही होता। कार्यक्रम के संयोजक पंजाबी बिरादरी के प्रधान प्रेमनाथ गेरा, पंचनद के प्रधान केशव चैधरी ने बताया कि शीघ्र ही नगर के संगठनों के प्रधानों से मिटिंग करके और भी कई जगह ठंडे पानी की निशुल्क सेवा शुरू कराई जायेगी जिससे पूरे नगर में सभी को आसानी से पीने के लिए ठंडा पानी सुलभ हो सके। नगर के समाजसेवी साथियों को जोड़कर एक बड़ी समिति बनाई जायेगी जिससे सभी तरह के सेवा कार्य आमजन तक पहुंच सके। कार्यक्रम में मुख्यतः पूर्व नगर परिषद प्रधान हरीश अरोड़ा, अनिल अरनेजा, कृष्ण लाल मेहता, दिनेश कपूर, सुरेखा ढीगड़ा, रत्नेश बंसल, बीरबल वर्मा, गोकलगेट ट्रेडर्स एसोसिएशन प्रधान परवीन अग्रवाल, अमित यादव, किशोरी लाल नंदवानी, नंदलाल ढींगड़ा, किशोर सरपंच, अशोक जुनेजा, पूर्ण पुन्हानी, सरदार प्रीतपाल सिंह निक्का, हन्नी सरपंच, खन्ना जी व गणमान्य साथियों ने सहयोग किया।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें