expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : प्रशासन उचित रेट पर सिलेंडर कराए उपलब्ध, हम खरीद कर सेवा करने को तैयार : मुकेश कापड़ीवास

रेवाड़ी में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या से पूरे जिले में हाहाकार मचा हुआ है। जिला प्रशासन सभी तक सुविधाएं पहुंचाने में नाकामयाब रहा है। उक्त विचार व्यक्त करते हुए प्रमुख समाज सेवी भाई मुकेश कापड़ीवास ने कहा कि जिला प्रशासन यह कह रहा है कि हम जरूरतमंद को घर घर जाकर ऑक्सीजन पहुंचाएंगे मगर बड़ा सवाल यह है कि घर पर आइसोलेट मरीज खाली सिलेंडर कहां से लाएगा। यदि वो बाजार से चोरी-छिपे खरीदेगा तो इस से काला बाजारी को बढ़ावा मिलेगा। मुकेश कापड़ीवास ने जिला प्रशासन से निवेदन करते हुए कहा कि यदि सरकार सच मे आइसोलेटेड कोविड संक्रमित मरीज को ऑक्सीजन पहुंचाना चाहती है तो या तो उनको खाली की जगह भरे सिलेंडर उपलब्ध कराए या हम समाजसेवियों को उचित रेट पर खाली सिलेंडर उपलब्ध कराएं ताकि हम उन जरूरतमंद संक्रमित लोगों की मदद कर सकें जो ऑक्सीजन की एक एक सांस के लिए तड़फ रहे हैं। 



प्रशासन 99 नंम्बर कमरे में आए आवेदन व निवारण पर जारी करे पत्र।

मुकेश कापड़ीवास ने कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन आवेदन करने के लिए सामान्य हस्पताल में बने 99 नम्बर कमरे पर कहा कि 99 नंम्बर कमरा सिर्फ 99वें का चक्कर बन कर रह गया है। जब भी कोई पीड़ित परिजन सिलेंडर के लिए आवेदन करने जाता है उसे यहाँ से वहां टरका दिया जाता है जो जिला प्रशासन की बड़ी लापरवाही है। ऐसे समय मे पीड़ितों की तुरन्त मदद करनी चाहिए न कि उनको इधर उधर भटकाएँ। जिला प्रशासन यह भी बताएं कि अब तक 99 कमरे से कितने लोगों ने आवेदन किया व कितनों को सिलेंडर उपलब्ध कराया है।
जनप्रतिनिधियों से मदद करने की अपील।
मुकेश कापड़ीवास ने जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, उद्योगपतियों व एनजीओ से आग्रह करते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में बे घर में बैठ कर भी संक्रमित मरीज व उनके परिजनों की खाना भेजकर, ऑक्सीजन उपलब्ध करवा कर, बेड का प्रबंध कर व आर्थिक सहायता दे कर मदद कर सकते हैं। घर से फोन पर संक्रमित का हाल पूछ कर भी हम उनकी मदद कर सकते हैं।

स्वास्थ्य विभाग गांव-गांव में भेजें टीम।

मुकेश कापड़ीवास ने कहा कि यह महामारी अब गांवों में भी पहुंच गई है। 60-70 प्रतिशत लोग इस बीमारी से संक्रमित हो रहे हैं। जिला प्रशासन या स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभी तक गांवों में कोई टीम नहीं भेजी जा रही है जो उनके वहीं पर टेस्ट कर सके व उन्हें वहीं पर दवाईयां आदि दे ताकि वो घर पर रहकर ठीक हो सके।

बॉक्स
मुकेश कापड़ीवास ने शोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक जवान के वीडियो पर गहरा दुख व रोष प्रकट करते हुए कहा कि हमारे इस देश मे सेना के एक जवान को अपने भाई की जान बचाने के लिये 70 हजार में खाली सिलेंडर खरीदना पड़ा जो हमारे लिए बड़े शर्म की बात है। उन्होंने कहा कि सेना का वह जवान रो रो कर इलाके के सांसद राव इंद्रजीत सिंह को कोस रहा है। ऐसे में सांसद राव इंद्रजीत को आगे आकर अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए सफाई देनी चाहिए। हमारी रक्षा के लिए देश के बॉर्डर पर सैनिक अपनी जान की बाजी लगा रहा है और नेता लोग एयरकंडीशन घर में बैठ कर मौत का मातम देख रहे हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण हैं। ऐसे समय मे नेताओं को उनके माता-पिता व परिवार की मदद के लिए आगे आना चाहिए।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें