expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : धारूहेड़ा व रेवाड़ी में दुकानों पर चैक की रेट लिस्ट

रेवाडी 8 मई। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के निर्देश पर सभी दुकानों पर निर्धारित रेट की सूची का निरीक्षण करने के लिए जिला नगरायुक्त दिनेश यादव द्वारा गठित टीम ने आज धारूहेड़ा व रेवाड़ी में किरयाना, जरनल स्टोर व फल-सब्जी विक्रेताओं द्वारा लगाई गई रेट लिस्ट का अवलोकन किया। कई दुकानों पर रेट लिस्ट नहीं मिली तो उन दुकानदारों को निरक्षण टीम ने रेट लिस्ट की सूची उपलब्ध करवाते हुए मौके पर ही चस्पा करवाई।



नगरायुक्त ने निर्देश दिए कि प्रतिदिन धारूहेड़ा, बावल व रेवाड़ी कस्बा में दुकानों का निरीक्षण करें तथा दुकानों के बाहर रेट लिस्ट देखे की रेट लिस्ट दुकान पर लगाई हुई है अथवा नहीं। उन्होंने कहा कि दुकानदार दुकानों पर आए हुए ग्राहकों को बिल अवश्य दें तथा उसका वजन सही हो टीम यह भी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जो दुकानदार बिल नहीं देता है तथा सामान का वजन कम पाया जाता है तो उसके खिलाफ तुरंत कार्यवाही करें।
आयुक्त ने कहा कि रेट व तोल के निरीक्षण के लिए टीम अब रोजाना औचक निरीक्षण करेगी। उन्होंने कहा कि यदि कोई दुकानदार सरकार द्वारा निर्धारित रेट से अधिक वसूलता है तो उसकी शिकायत 1950 पर करें, यह शिकायत हमारे पास पहुंच जाएगी और उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।
उन्होंने कहा कि खाद्य पदार्थों व सब्जियों के रेट दुकानदारों को निर्धारित करके दे दिए गए हैं तथा दुकानों पर चस्पा करने के निर्देश भी दिए हुए हैं। उन्होंने कहा कि जो भी दुकानदार कालाबाजारी करने की कोशिश करेगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।


निरीक्षण टीम में नप सचिव प्रवीण कुमार, धारूहेड़ा नपा सचिव अनिल कुमार, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग से जतिन कुमार व मार्केट कमेटी से भरत सिंह शामिल रहे।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें