expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Pakur News: झारखंड सरकार के बढ़ते लोकप्रियता व प्रभाव को भाजपा पचा नहीं पा रही है: वंशराज


ग्राम समाचार, पाकुड़।पाकुड़ सहित प्रदेश में बैठे वीपक्षियों को नहीं भा रही है झारखंड सरकार की कल्याणकारी योजनाएं, मुद्दों के अभाव में बौखलाहट  जारी है।विपक्षियों द्वारा पाकुड़ में आज झारखंड की चिंता करने जैसी बात कही जा रही है । जिसपर पाकुड़ झामुमो नगर उपाध्यक्ष वंशराज गोप ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा की आज भाजपा आपने ही कृत्यों के कारण विपक्ष में बैठने को मजबूर है।2014 में बीजेपी रोजगार,विकास  के मुद्दे पर स्थाई सरकार के साथ सत्ता में आई थी,परंतु स्थाई सरकार के बावजूद न तो रोजगार और न ही विकास ही पटरी पर ला सकी।  5 साल का कार्यकाल पूरा करने वाली भाजपा की डबल इंजन की सरकार,झारखंड के लिए कुछ नही कर सकी।,इन्होंने अपना सबसे बड़ा हथियार,हवाई बयानबाजी और जुमलेबाजी को बनाया था।जिसको पाकुड़ सहित पूरे प्रदेश की जनता भलीभाती समझ गई है।जिसका जबरदस्त आक्रोश झारखंड की जनता में दिखा। उसका परिणाम झारखंड की जनता ने 2019 के विधानसभा चुनाव में दिया है। जिसमे 65 पार का नारा देने वाली पार्टी 30 से भी काम सीटो पर सिमट कर रह गई। इतना ही नहीं इनके मुखिया रहे  रघुवर दास जी को भी अपनी सीट गवानी पड़ी। और बड़े बड़े नेता चुनाव हार गए। श्री गोप ने कहा भाजपा दलों के नेताओ को आपने गिरेवान में झांकने की आव्यशकता है। भाजपा शासित राज्यों से तुलना करने के उपरांत ही बयानबाजी करनी चाहिए। उदाहरण स्वरूप यूपी,बिहार का हाल जनता देख रही है।आज जब हेमन्त सरकार झारखंडियो को अपना हक दे रही है तो इन भाजपाइयों को मिर्ची लग रही है ।  "खिसियाई बिल्ली खंबा नोचे" । मुख्यमंत्री  हेमंत सोरन जी की कार्य शैली की, आज प्रदेश ही नहीं बल्कि सारा देश देख रहा है। झारखंड किस स्तर पर केंद्र में बहुमत वाली बीजेपी सरकार के घिनौने रवैये के बावजूद महामारी से लड़ने में अग्रिम भूमिका निभा रही है। और आपने बलबूते महामारी से लड़ने के दौर में,देश के टॉप राज्यो में शामिल कर दिया है। ।पिछले महामारी के दौर में मुख्यमंत्री जी के महान कृत्य को देखकर सभी राज्य दंग रह गए थे,। जब उन्होंने हवाई चप्पल पहने वाले हमारे गरीब  प्रवासी मजदूर भाईयो को हवाई यात्रा से प्रदेश में वापस  लाने जैसे संकल्पित कार्य किए  थे।जबकि अन्य बीजेपी शासित राज्यों का हाल जनता से छुपा नहीं है। प्रोपेगंडा चलाने में भी इनको शर्म नही आती 37.3 प्रतिशत वक्सीन बर्बादी की बात से लोगो में भ्रम फैलाना चाहते है जबकि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा तकनीकी खराबी को सुधार कर 37.44 से घटाकर 6.44 कर दिया गया है। बताते चले। आज सबसे कम एक्टिव केस झारखंड में है,और रिकवरी रेट में झारखंड   अच्छी    है।  पाकुड़ की जनता भी इन्हे पहचान चुकी है इसलिए इनके बेतुके बयान को तव्वजो नही देती है।गौरतलब हो की देश के 50 प्रभावशाली लोगो में हेमन्त सोरन 12वे स्थान पर है जो भाजपाइयों को राज नही आ रही है।

ग्राम समाचार, पाकुड़ राजकुमार भगत की रिपोर्ट।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें