expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Bhagalpur News:ऐक्टू ने प्रदर्शन कर फिलिस्तीनी जनता के साथ व्यक्त की एकजुटता, फिलिस्तीनियों के लिए चिकित्सीय व पाठ्य सामग्रियों का करें सहयोग


ग्राम समाचार, भागलपुर। वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ ट्रेड यूनियन्स की सम्बद्ध ईकाई ऐक्टू व अन्य केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के देशव्यापी संयुक्त आह्वान पर आज इजरायली सरकार की अमानवीय सैन्य बर्बरता के खिलाफ संघर्षरत फिलिस्तीनी जनता के साथ एकजुटता दिवस मनाया और  इजराइल का बहिष्कार - भंडाफोड़ कर उसपर प्रतिबंध लगाने और फिलिस्तीन के लिए चिकित्सीय व पाठ्य सामग्रियों  का सहयोग करने का आह्वान किया। हनुमाननगर स्थित ऐक्टू के जिला कार्यालय में ऐक्टू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व एआईसीडब्लूएफ  के राष्ट्रीय महासचिव एस के शर्मा, मोहनपुर में ऐक्टू के राज्य सचिव सह भाकपा-माले के नगर प्रभारी मुकेश मुक्त, मारुफचक में भाकपा-माले के नगर सचिव सुरेश प्रसाद साह, सुरखीकल स्थित यूनियन कार्यालय में तिलकामांझी जोनल सचिव अमर कुमार, साहेबगंज में अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ-गोपगुट के सम्मानित जिला अध्यक्ष विष्णु कुमार मंडल, ऐक्टू के मनोज कृष्ण सहाय, अमित गुप्ता, अजहर कलीम, प्रवीण पंकज, सुभाष कुमार, दीपक कुमार आदि दर्जनों ऐक्टू नेताओं - कार्यकर्ताओं ने भागलपुर के विभिन्न मोहल्लों में कोविड परहेज का पालन करते हुए पोस्टर के प्रदर्शन कर इजराइल सरकार की खूंखार जनसंहार की शिकार फिलिस्तीनी जनता के साथ एकजुटता व्यक्त की। एस के शर्मा ने इजराइल के केयरटेकर प्रधानमंत्री नेतन्याहू द्वारा सिर्फ इजरायली सत्ता पर अपनी पकड़ मजबूत करने लिए फिलिस्तीनियों के विरुद्ध अवैध व कुत्सित सैन्य कार्यवाई की तीखी निंदा करते हुए मौके पर कहा कि बेकसूर फिलिस्तीनियों पर किया गया यह हमला मानवता विरोधी है। उन्होंने कहा कि यह अत्यंत दुखद और शर्मनाक है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के खुले बहस में भारत की एनडीए सरकार द्वारा इजरायली हमले का खुला विरोध नहीं कर फिलिस्तीनी मसले पर अमेरिकी नीति का अनुसरण किया गया। भारत का मजदूर वर्ग फिलिस्तीनी जनता के साथ है और राजधानी ईस्ट जेरुसलम के साथ फिलिस्तीन राष्ट्र की संप्रभुता का समर्थन करता है। कार्यक्रम का संचालन कर रहे मुकेश मुक्त ने इजरायली सरकार द्वारा जेरुसलम को जबरन हथियाने की नीयत से फिलिस्तीन के रिहायसी इलाकों पर बम बरसाकर की गयी हजारों फिलिस्तीनी जनता की हत्या व घायल किये जाने और मकानों, अस्पतालों, स्कूलों को ध्वस्त किए जाने की तीव्र भर्त्सना करते हुए कहा कि भारत सहित अंतरराष्ट्रीय समूहों द्वारा इजरायली सरकार का बहिष्कार व भंडाफोड़ करते हुए उसपर प्रतिबंध लगाना चाहिए। ऐक्टू, संयुक्त राष्ट्र संघ  के युद्ध अपराध ट्रिव्यूनल में इजराइल के खिलाफ युद्ध अपराध का मुकदमा चलाने और उसे सजा देने की मांग करता है। साथ ही फिलिस्तीन के लिए चिकित्सीय व पाठ्य सामग्रियों के सहयोग की भी अपील करता है।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें