expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Chandan News: ₹20 कमाने के चक्कर में ठगी का शिकार हुए गरीब

ग्राम समाचार,चांदन,बांका। चांदन प्रखंड क्षेत्र के कई गांव के ग्रामीण लोग ₹20 प्रतिदिन आमदनी के देने की बात करते हुए स्काई वॉलेट प्राइवेट कंपनी के चक्कर में सैकड़ों ग्रामीण हुआ ठगी का शिकार। ज्ञात हो कि बांका जिले के ही कई युवकों ने स्काई वायलेट प्राइवेट कंपनी से जुड़े मुख्य रूप में कंपनी के प्रसारक सुप्री डेंट राहुल कुमार जिसका मोबाइल नंबर (91 62 27 700 4) के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के भोले भाले व्यवसाई को अपने जाल में फंसा लिया! कई बड़े-बड़े प्रोग्राम किए प्रोग्राम के दौरान स्काई वायलेट से मिलने वाली विशेषताएं जैसे अन्य कंपनियों ने चैनल बढ़ाने पर घर बैठे आमदनी होने की पुष्टि कर दिखाया जिसमें प्रखंड क्षेत्र के कुछ जाने-माने लोगों को सबसे पहले झांसे देकर ₹999 लेकर प्रथम अध्यक्ष के रूप में कोड निकाल दिया। और बीच-बीच में भैरोगंज बाजार स्थित व्यवसाई के दुकान पर लोगों को इकट्ठा करते हुए लगभग इस क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीणों को ₹999 लेकर स्काई वायलेट कंपनी में जोड़ा गया। जिसमें कुछ दिनों तक एंड्राइड मोबाइल पर सप्ताह में 5 दिन₹20 राशि दिखाने का काम किया गया और बताया गया की राशि 180 दिन तक 

आएगी। इसी बीच या फर्जी कंपनी ने अपना सिस्टम को बंद करते हुए पुण: प्रसारित करने का दिलासा देने लगे! जो आज तक सिस्टम बंद कर दिया गया है जिससे गरीब ग्रामीण आज ठगी का शिकार महसूस किए जा रहे हैं इस संबंध इस क्षेत्र में स्काई वॉलेट कंपनी में लोगों को जोड़ने वाले कामेश्वर दास जी पूछने पर अपनी मजबूरी दिखाते हुए अपने सीनियर से बात करने को कहा जाता है। जिसका उत्तर प्रदेश मोबाइल नंबर 62 84 18 57 61 संपर्क करने बताया गया। लेकिन लोकल व्यक्ति जुड़े होने के कारण कई गरीब लोग ठगी का शिकार हुए। और लाखों रुपए लेकर आज यह कंपनी चंपत हो गया। जिसमें कुछ व्यक्तियों द्वारा संलग्न बांका जिले के स्काई वायलेट सुप्रिडेंट राहुल कुमार को कानून का वास्ता देकर अपना दिया हुआ रुपैया लौटवा लिया। लेकिन बाकी गरीब व्यक्ति को आज भी इसका फायदा नहीं ले पाया। और ना अपना पैसा लोटवा पाया। इसी क्रम में कुसुम जोरी के शंभू पोद्दार ने बताया की मैं भी अपने भाई को देखकर इस कंपनी से जुड़े बिनोद दास पिता कामेश्वर दास भैरोगंज निवासी को ₹1000 देकर जुड़ गया। लेकिन इसका कोई फायदा आज तक नहीं मिल पाया। इधर जब स्काई वायलेट के सीनियर को इस संबंध में बात करने पर बुरा भला कहते हुए देख लेंगे की धमकी देने लगे हैं। यदि इस तरह की फर्जी कंपनियां पांव पसारने में कामयाब रहेंगे, तो कितने लोग ठगी के शिकार होना पड़ेगा। इस तरह घटना की सूचना आज तक पुलिस प्रशासन को नहीं दी गई है। 

उमाकान्त साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन,बांका।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें