expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : गंगायचा टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों के लिए फ़ास्ट टैग की अनिवार्यता, नॉन स्टॉप सफर का लुत्फ़ उठाने के लिए सभी वाहन लगवाए फ़ास्ट टैग : कवीन्द्र चौहान



राष्ट्रिय राजमार्ग पर मौजूद सभी टोल प्लाजा को पूरी तरह से कैशलेस करने के लिए केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय द्वारा 15 फ़रवरी से हाइवे से गुजरने वाले सभी वाहनों के लिए फ़ास्ट टैग अनिवार्य कर दिया गया है। एनएच-71 स्थित रेवाड़ी के एकमात्र टोल प्लाजा गंगायचा जाट पर इसकी अनिवार्यता लागू करने के लिए फ़ास्ट टैग नहीं लगवाने वाले वाहनों से अब दोगुना टोल लेने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। हालाँकि सरकार की और से फ़ास्ट टैग के साथ कैशलेस करने की योजना जनवरी से थी लेकिन किसान आंदोलन के चलते इसे अब फरवरी में लागु किया गया है। गंगायचा टोल प्लाजा के भी सभी बूथों से कैश की लेन समाप्त कर दी गई है। टोला प्लाजा के मैनेजर कवीन्द्र चौहान ने मीडिया को बताया कि मंगलवार से सभ वाहनों के लिए फ़ास्ट टैग अनिवार्य कर दिया गया है जिनके पास नहीं है वे तुरंत बनवा सकते है अथवा ऑनलाइन भी ले सकते है अन्यथा नहीं बनवाने वाले वहां चालकों से डबल टोल वसूला जायेगा। उन्होंने बताया कि फ़ास्ट के लिए प्लाजा पर केएनओपी लगाई गई है। गंगायचा जाट टोल प्लाजा एनएच-71 पर है जो रेवाड़ी को झज्जर-रोहतक, कुंडली-मानेसर और पलवल से जोड़ता है यहाँ से प्रतिदिन पांच हज़ार के करीब हलके व भारी वाहन गुजरते है। उन्होंने बताया कि 70 प्रतिशत वाहन फ़ास्ट टैग पहले ही ले चुके थे 25 प्रतिशत कैश से चल रहा था लेकिन उनका लक्ष्य सौ प्रतिशत का है। उन्होंने वाहन चालकों को जागरूक करते हुए कहा कि वाहन चालक ये जरा भी भयभीत न हो कि उनसे फ़ास्ट टैग के नाम से डबल चार्ज नहीं लिया जायेगा जो टोल दरें है वही लगेंगी। कवीन्द्र चौहान ने बताया कि किसान आंदोलन के चलते हरियाणा के सभी टोल फ्री चल रहे है उनके प्लाजा पर ही फ्री नहीं किया हुआ है जिस वजह से उनके प्लाजा पर फ़ास्ट टैग वाले वाहनों की भीड़ रही थी लेकिन अब लोग भी जागरूक हो रहे है स्वयं भी फ़ास्ट टैग लगवा रहे है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें