expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : गांव जुड्डी में शहीद दीपक कुमार की सैनिक सम्मान के साथ अन्तयेष्टि की गई

रेवाड़ी, 29 जनवरी। दक्षिण कश्मीर के कुलगाम क्षेत्र में बुधवार को आतंकियों द्वारा आईईडी से किए हमले का शिकार हुए गांव जुड्डी निवासी जाबांज सैनिक शहीद दीपक कुमार की शुक्रवार को सैनिक सम्मान के साथ अन्तयेष्टि कर दी गई। हरियाणा के सहकारिता, अनुसूचित जाति एवं पिछडा वर्ग कल्याण मंत्री डॉ बनवारी लाल, भाजपा जिलाध्यक्ष मा. हुकम चंद यादव, पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह यादव, पूर्व मंत्री जगदीश यादव, उप-जिला प्रमुख जगफूल, जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम बावल मनोज कुमार सहित इलाके के अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने शहीद दीपक कुमार के पार्थिव शरीर पर पुष्प चढाकर नमन किया। 83 आम्र्ड सेना के जवानों और हरियाणा पुलिस की टुकड़ी ने शस्त्र झुका कर शहीद को सलामी दी। शहीद का पार्थिव शरीर लेकर  सेना का वाहन शुक्रवार को जैसे ही जुडडी गांव पहुंचा, तो हर कोई अपने जांबाज सपूत को देखने उमड पड़ा।



गौरतलब है कि गांव जुडडी निवासी दीपक कुमार सुपुत्र स्व. श्रीकृष्ण कुमार 23 जून 2005 को 12 आम्र्ड रेजिमेंट में भर्ती हुए थे। वह वर्तमान समय में कश्मीर में 24 आरआर बटालियन में तैनात थे। शव के साथ आए 12 आम्र्ड रेजिमेंट के कैप्टन मयंक सरदालिया ने बताया कि दीपक कुुमार एक निर्भिक और बहादुर जवान था। सेना के हर कार्य को करने के लिए हमेशा आतुर रहता था। गत बुधवार को कुलगाम में जब सुरक्षाबलों का दस्ता शम्सीपोरा इलाके में गश्त कर रहा था, तब घात लगाए बैठे आतंकवादियों द्वारा आईईडी से विस्फोट कर दिया गया, जिसमें दीपक कुमार शहीद हो गए ,जबकि अन्य तीन जवान घायल हो गए थे। सेना का वाहन दीपक के पैतृक गांव जुड्डी पहुंचा तो हर किसी की आंखें नम हो गई और जब तक सूरज चांद रहेगा दीपक तेरा नाम रहेगा, भारत माता की जय जैसे गगनभेदी नारों के बीच शहीद दीपक कुमार का अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर प्रदेश के सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि शहीद देश की अमुल्य धरोहर हैं, हरियाणा विशेषकर दक्षिणी हरियाणा सैनिकों की खान है और सेनाओं में हर दसवां जवान हरियाणा से है। उन्होंने कहा कि शहीद दीपक कुमार का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश सरकार सैनिकों और उनके आश्रितों के मान सम्मान को कटिबद्ध है। उन्होंने भारत मां के सपूत को सलाम करते हुए युवा पीढी को देश सेवा के लिए प्रेरित किया। उन्होंने शहीद दीपक के बेटे रोहण कुमार को जीवन में मन लगाकर पढाई करने का आर्शीवाद दिया। सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि ग्राम पंचायत द्वारा प्रस्ताव पास करके भिजवाने उपरांत शहीद दीपक के नाम से खेल स्टेडियम का नामकरण कर दिया जाएगा। उन्होंनेे शहीद दीपक कुमार के परिजनों को राज्य सरकार द्वारा हर संभव मदद का भरोसा दिया। जिला प्रशासन की ओर से बावल के एसडीएम मनोज कुमार ने शहीद के परिजनों को ढांढस बंधाया और शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि पीडित परिवार पर जो दुखों का पहाड टूट पड़ा  है, भगवान दुख की इस घड़ी को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। उन्होंने जिला प्रशासन की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया।


शहीद दीपक कुमार की अंतिम संस्कार यात्रा में जिला सैनिक बोर्ड की सचिव कर्नल सरिता यादव, डीएसपी महेंद्र सिंह, एसएचओ शिवचरण, तहसीलदार जितेंद्र कुमार, नाहड के नायब तहसीलदार अस्तित्व पाराशर, सरपंच राजेंद्र सिंह, 83 आम्र्ड  रेजिमेंट के रिसलदार कृष्ण सिंह, 12 आम्र्ड रेजिमेंट के नायब रिसलदार सुखविंद्र सिंह, रामफल कोसलिया, बिटटू, प्रशांत यादव, अजय भारतीय, बलजीत यादव, निशांत यादव, मनोज कोसलिया, भाजपा किसान मोर्चा के नेता रामपाल यादव, औमप्रकाश सहित कोसली क्षेत्र के अनेक संगठनों के पदाधिकारियों और गणमान्य व्यक्तियों ने उनकी अन्तयेष्ठिï में भाग लिया।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें