expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Chandan News:प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा योजना के तहत 400 गर्भवती महिलाओं की हुई जांच

 ग्राम समाचार, चांदन, बांका।प्राप्त जानकारी के अनुसार हर महीने की भांति आज 9 जनवरी 2021 को प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा योजना के तहत सीएचसी चांदन तथा चांदन प्रखंड के ही सुइयां उप स्वास्थ्य केंद्र में 400 के लगभग गर्भवती माताओं की एएनसी जांच कराई गई। जिसमें हेमोग्लोबिन, एचआईवी, एंटी जैन किट द्वारा कोरोना टेस्ट के साथ गर्भ में पल रहे बच्चे की धड़कन इत्यादि की जांच की गई तथा जांच किए गए महिलाओं को अस्पताल प्रबंधक द्वारा दो केले, एक नारंगी, एक सेव तथा 20 डायजिन टेबलेट दिया गया। जबकि गर्भवती माताओं को आयरन फोलिक एसिड टेबलेट के साथ कैलशियम टेबलेट जरूरी होती है। 



आज सीएससी चांदन में लगभग ढाई सौ के करीब गर्भवती महिलाएं जांच कराने पहुंचे थे, जहां देखा गया की मात्र 2 डॉक्टर, डॉ0 जय किशोर गुप्ता एवं डॉक्टर सवा रहमान के द्वारा जांच किया गया। जिससे गर्भवती महिलाओं के साथ-साथ आशा कार्यकर्ताओं को भारी कठिनाईयों का  सामना करते देखा गया। 



महिला कक्ष में भी इसी तरह का समस्या देखी गयी। जिसमें 1: 30 बजे तक 2 एएनएम इंदु कुमारी तथा सुनीता कुमारी तथा 1:30 बजे के बाद एएनएम रूपम कुमारी, संजू कुमारी के द्वारा संपन्न हुआ। आज के दिन में डॉक्टर नर्स की कमी रहने के कारण जांच कराने आए गर्भवती माताओं के बीच तरह-तरह की चर्चाएं करते देखी गई।

इस मौके पर डॉक्टर जय किशोर गुप्ता, डॉक्टर सवा रहमान, एएनएम-इंदु कुमारी, सुनीता कुमारी, रूपम कुमारी, संजू कुमारी,(कोरोना टेस्ट कर्ता)चंदन कुमार, आशा कार्यकर्ता तथा हिमोग्लोबिन एचआईवी जांचकर्ता डॉक्टर राघवेंद्र प्रसाद सहाई प्रमुख भूमिका रही तथा फल वितरण में अजय कापरी इत्यादि मौजूद थे। इधर सुईया उप केंद्र में डेढ़ सौ के करीब गर्भवती महिलाओं की जांच की गई जिसमें मुख्य रूप से सीएचसी चांदन चिकित्सा प्रभारी एके सिन्हा मौजूद रहे।

उमाकांत साह, ग्राम समाचार संवाददाता, चांदन, बांका।

Share on Google Plus

Editor - सुनील कुमार

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें