expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur News:राज्य हिंसा के विरुद्ध अभियान के तहत पीस सेंटर परिधि द्वारा समर्थन हस्ताक्षर और वक्तव्य का आयोजन


ग्राम समाचार, भागलपुर। गांधी जी के शहादत दिवस पर पीस सेंटर परिधि की ओर से राज्य हिंसा के विरुद्ध अभियान के तहत समर्थन हस्ताक्षर और वक्तव्य का आयोजन हुआ। राष्ट्र सेवा दल बिहार के अध्यक्ष उदय ने कहा कि गांधी जी मजबूत राजसत्ता नहीं मजबूत लोकसत्ता चाहते थे। वे मानते थे कि अच्छी सरकार वह है जो कम से कम शासन करे। वे राज्य को हिंसा का केंद्रीकृत रूप मानते थे। खुदाई खिदमतगार के मो. शहवाज ने कहा कि राज्य आज किसानों पर हो रही हिंसा राज्य सम्पोषित है। 150 से अधिक किसान राज्य हिंसा के शिकार हुए । ललन ने कहा कि बीसवीं सदी के दोनों महानायक गांधी और मार्क्स राज्यविहीन सरकार चाहते थे। गांधी सेना, पुलिस और जेल रहित शासन चाहते थे। पीस सेंटर के समन्वयक राहुल ने संचालन करते हुए कहा कि आज ही के दिन जिंदगी भर अहिंसा की बात करने वाले गांधी जी एक सिरफिरे की हिंसा के शिकार हुए। गांधी जानते थे कि समता और सम्मान के बिना अहिंसक समाज नहीं हो सकता। सर्व धर्म समभाव के बिना समता नहीं है। गांधी आजादी के बाद बराबरी वाला लोकतंत्र चाहते थे। जबकि गोड्से गैंग वर्चस्ववादी विशेषाधिकार पर आधारित प्राचीन संस्कृति वाला समाज चाहते थे। गांधी जी मानते थे कि अहिंसा के बिना देश की तरक्की संभव नहीं और समता के बिना अहिंसा संभव नहीं। गांधी जी ने इसी समता, न्याय, बराबरी, सद्भाव और एकता के लिए अपना बलिदान दिया । इस अवसर पर गांधी कटआउट कैनवास पर तीन सौ (300) से अधिक लोगों ने समर्थन हस्ताक्षर बनाये। हस्ताक्षर बनाने में लाडली राज, जय नारायण, दुर्गा, मनोज, अभिषेक, डॉली आदि ने सहयोग किये। मो.खुर्शीद अनवर ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें