expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bounsi News : अब तक नहीं बन सका बौंसी बस स्टैंड में महिला शौचालय

 ग्राम समाचार, बौंसी, बांका। कुछ वर्ष पहले दूर-दराज से आने वाली महिला यात्रियों के लिए महिला शौचालय का निर्माण कराने की स्वीकृति दी गई थी। जिस पर आधा अधूरा काम भी हुआ था। शौचालय की टंकी भी बन गई थी। लेकिन प्रशासन की मौन दृष्टी से आज तक महिला शौचालय का निर्माण पूर्ण नहीं हो सका। हालांकि खासतौर से महिला यात्रियों के लिए यह शौचालय बना था। क्योंकि बौंसी पर्यटन क्षेत्र है। यहां कई राज्यों से सैलानी इस बौंसी बाजार होकर गुजरते हैं। यात्री बसों का यहां ठहराव भी होता है। ऐसी परिस्थिति में ही महिला यात्रियों को शौच के लिए इधर-उधर जाना पड़ता है। अक्सर महिलाएं शौच जा भी नहीं पाती है। कारण कि बस का ठहराव ज्यादा देर तक नहीं है। 

इसके बावजूद भी महिला शौचालय का निर्माण बौंसी बस स्टैंड का नहीं हो पाया है।  विदित हो कि यह प्रसिद्ध बौंसी मंदार पर्यटन नगरी है और धार्मिक स्थल है। यहां पर बस स्टैंड में महिला शौचालय का होना अति आवश्यक है। लेकिन इस ओर ना तो प्रशासन का ध्यान है और ना ही किसी राजनेता का। मालूम हो कि जिला परिषद मार्केट में जो शौचालय है। वह बस स्टैंड से काफी दूर है और ज्यादातर वहां पर ताला लटका रहता है। वहीं दूसरी ओर यात्री शेड बना हुआ है। बस देखरेख के अभाव में जीर्ण शीर्ण अवस्था में है। वहां यात्री कम और जानवर ज्यादा बैठते हैं। क्योंकि वहां गंदगी का भरमार है। जब बरसात का मौसम आता है या गर्मी का मौसम आता है। उस परिस्थिति में यात्रियों को ठहरने की जगह नहीं होने के कारण काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। फिर भी प्रशासन मौन है। सरकार द्वारा चलाए जा रहे महिला सशक्तिकरण की धज्जियां उड़ रही है। महिला सशक्तिकरण को ध्यान में रखते हुए महिला शौचालय का निर्माण होना अति आवश्यक है।  शौचालय का निर्माण पूर्ण कराया जाए। ताकि दूरदराज से आने वाली महिला जो बस से सफर करती हैं। उन्हें दिक्कतों का सामना करना ना पड़े। साथ ही यात्री शेड जहां गंदगी का अंबार पड़ा है। वह भी साफ सफाई करवाने की आवश्यकता है।  महिला शौचालय का निर्माण शीघ्र कराने की आवश्यकता पर जोर दिया जाना चाहिए। 

कुमार चंदन, ग्राम समाचार संवाददाता, बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें