expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur news:साइबर फ्रॉड गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार


ग्राम समाचार, भागलपुर। एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर लोगों के खाते से पैसे उड़ाने वाले साइबर फ्रॉड गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल किया किया है। उक्त आशय की जानकारी एसएसपी आशीष भारती ने एक प्रेस वार्ता में दी और बताया कि गिरफ्तार किये गये फतेहपुर थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव के रहने वाले निलेश कुमार और फतेहपुर थाना क्षेत्र के ही अमौर गांव के रहने वाले विनोद कुमार के साथ ही झारखंड के कोडरमा स्थित जयनगर थाना क्षेत्र के बदुसिया के रहने वाले दयानंद कुमार के पास से विभिन्न बैंकों के 46 एटीएम कार्ड, तीन स्वाइप मशीन, 72 सौ रुपये और चार मोबाइल और अन्य सामान बरामद किये गये हैं। सभी की गिरफ्तारी होटल भावना इंटरनेशनल से हुई है। गिरफ्तारी के बाद साइबर ठगों ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि वे काफी संख्या में लोगों के खाते से पैसे उड़ा चुके हैं। भागलपुर में भी वे साइबर ठगी के उद्देश्य से ही इकट्ठा हुए थे। पूछताछ में यह भी पता चला है कि इस तरह की साइबर ठगी गिरोह में बिहार और झारखंड के अलावा अन्य राज्यों के भी साइबर ठग शामिल होते हैं। इन तीनों से पूछताछ के बाद पुलिस उस गिरोह के अन्य सदस्यों की भी तलाश कर रही है। एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि गुप्त सूचना मिलने पर सिटी एसपी एसके सरोज के नेतृत्व में पुलिस की टीम का गठन किया गया था। उसमें जोगसर ओपी प्रभारी अजय कुमार अजनवी और अन्य पुलिस पदाधिकारी शामिल थे। साइबर ठगों की कार भी जब्त की गयी है। गिरफ्तार किये गये साइबर ठगों ने बताया है कि वे एटीएम के अंदर पैसे निकालने गये लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। बुजुर्ग या महिलाएं उनके निशाने पर ज्यादा होते हैं। मदद करने के नाम पर उनका एटीएम अपने हाथ लेकर पोर्टेबल मशीन से तुरंत उस एटीएम को स्वाइप कर उसका डाटा चुरा लेते हैं। उसके बाद लैपटॉप में उस डाटा को लेते हैं और सादे कार्ड पर उस डाटा को डालकर एटीएम का क्लोन तैयार कर लेते हैं और उससे पैसे निकालना शुरू कर देते हैं। इस बात की भी जानकारी साइबर ठगों ने दी है कि एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर उससे पैसे निकालने पर उस एटीएम के वास्तविक मालिक को न तो मैसेज जाता है और न ही ओटीपी ही जाता है। एसएसपी ने कहा कि यही वजह है कि आजकल कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिसमें पीड़ित बताता है कि ओटीपी और मैसेज आये बिना ही उनके खाते से पैसे की निकासी कर ली गयी। गिरफ्तार किये गये साइबर ठगों की संपत्ति की जांच करा उनके द्वारा अर्जित अपराध जनित संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई भी की जायेगी। इस गिरोह के अन्य सदस्यों की भी तलाश की जा रही है।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें