expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : लव जिहाद मामले में दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी बहुत जरूरी : धर्मेंद्र बैरियावास

रेवाड़ी : मंगलवार को समाजसेवी पंच धर्मेंद्र बैरियावास ने लव जिहाद मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए सरकार से अपील कर कहा कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी बहुत जरूरी है | देश के अलग-अलग राज्यों में लव जिहाद के बढ़ते मामले समाज एवं सरकार के लिए सबक बन गए है उन्होंने बताया कि निश्चित तौर पर मासूम बच्चियों को प्यार व शादी के नाम पर गुमराह करके उनके साथ रेप किया जाता है दुर्व्यवहार किया जाता है और फिर धर्म परिवर्तन करवाने का प्रयास किया जाता है अगर वह धर्म परिवर्तन नहीं करती तो उन्हें डराया धमकाया जाता है यहां तक की गोली भी मार दी जाती है यह गंभीर मामला है इसे रोकने के लिए सख्त कानून की बहुत ज्यादा आवश्यकता है उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओ के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन होना चाहिए व टाइम बाउंड प्रोसिडिंग पूरी होनी चाहिए जब तक ऐसा नहीं होगा तब तक ऐसे केसों के बढ़ने की आशंका है | उन्होंने कहा कि लव जिहाद को लेकर सख्त कानून के साथ सख्ती से पालना की अति आवश्यकता है इस प्रकार के लोग मानसिक बीमार होते हैं और उनका इलाज करना जरूरी है. देश का एक बड़ा हिस्सा इसे  साजिशन अंजाम दिया कृत्य बताता है तो दूसरा तबका इसे मामूली घटना बताकर अकारण तूल न  देने की बात करता है. एक तीसरा तबका भी है, जो यों तो ऐसे मामलों में तटस्थ दिखने का अभिनय करता है, पर जैसे ही कोई सरकार इस पर कानून लाने की बात कहती है, जैसे ही कुछ सामाजिक-सांस्कृतिक संगठन ऐसी बेमेल शादियों के विरोध में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हैं, यह सक्रिय हो उठता है। उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ वर्षो से हिन्दू लड़कियों का जर्बदस्ती या फिर बहला-फुसला कर धर्म परिवर्तन करने के मामले काफी बढ़ गए हैं. इस बात के कई प्रमाण हैं कि इस्लाम के नाम पर बनी कुछ संस्थाओं का काम ही यही है कि किस तरह से हिन्दू लड़कियों को बरगला कर मुस्लिम धर्म स्वीकारने और निकाह करने को मजबूर किया जाए,लेकिन इस संबंध में हाईकोर्ट का फैसला मिल का पत्थर साबित हो सकता है जिसमें उसने शादी के लिए धर्म परिवर्तन को अवैध करार दिया है. इस फेसले से हिन्दुस्तान में लव जेहाद चलाने वालोें के मंसूबों पर भी पानी फिर सकता है.

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें