expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : कोविड-19 के बढ़ते मामले चिंताजनक, सख्ती के साथ-साथ जागरूकता भी करें : विजय वर्धन


*रेवाड़ी, 10 नवंबर।* प्रदेश के मुख्य सचिव विजय वर्धन ने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के मामले एक बार फिर से बढ़ रहे हैं। एनसीआर के जिलों में स्थिति ज्यादा चिंताजनक है और हमें इससे निपटने के लिए सख्ती के साथ-साथ जन जागरूकता भी करनी है।

 मुख्य सचिव विजय वर्धन मंगलवार को विडियो कांफ्रेस के माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों की कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। मुख्य सचिव विजय वर्धन ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से बाजारों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है। इसके साथ ही लोगों ने सामाजिक दूरी का पालन और मास्क लगाना भी कम कर दिया है। यही वजह है कि कोविड-19 के मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में सभी जिला उपायुक्त, पुलिस आयुक्त, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर व अन्य अधिकारी इस विषय को गंभीरता से लें। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी जिलों के उपायुक्त अलग-अलग प्लान तैयार करें। फ्लैग मार्च करें और और लोगों को समझाएं कि कोविड-19 का खतरा अभी टला नहीं है और हमें इससे बचाव के लिए सतर्कता बरतनी है।

उन्होंने कहा कि हमें कोविड-19 की आपदा के शुरूआती दिनों की तरह जागरूकता अभियान चलाना है और अब फिर से सख्ती करनी आवश्यक है। सभी अधिकारी अधिक से अधिक चालान करें, ताकि कोविड-19 की इस आपदा से लोगों के जीवन को बचाया जा सके। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी बैंकवेट हाल, होटल, फार्म हाउस संचालकों को समझाएं कि वह अपने परिसरों में ज्यादा भीड़ इकट्ठा न होने दें। सभी बाजारों में दुकानदारों को बताएं कि सामाजिक दूरी का ध्यान रखें और ग्राहकों की अधिक भीड़ इकट्ठा न होने दें।

 उन्होंने निर्देश दिए कि कोविड के लिए 35 प्रतिशत रैपिड एंटीजन टेस्ट और 65 प्रतिशत आरटीपीसीआर टेस्ट किए जाएं। इसके साथ ही कोई भी पॉजिटिव व्यक्ति मिलता है तो 72 घंटे के अंदर उसके संपर्क में आने वाले कम से कम 15 लोगों की सूचना इकठ्ठा करें और समय से इन लोगों को ढूंढकर इनका टेस्ट करें। उन्होंने कहा कि पाजीटिव लोगों को जल्दी ढूंढना और उन्हें समय से ईलाज मुहैया करवाना जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जिन अस्पतालों या क्षेत्रों में कोविड-19 से ज्यादा मृत्यु हैं वहां पर ऑडिट करें और पता लगाएं कि क्या कारण रहे हैं।

 विडियो कांफ्रेस के दौरान उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने बताया कि पिछले कई दिनों से जिला में कोविड-19 के मामले में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा इस संबंध में गंभीरता से कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि जितने भी मामले आ रहे हैं उनमें तुरंत कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग कर उनके सैंपल लिए जा रहे हैं और आईसोलेट भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाजारों में त्योहारों की सीजन में भीड़ बढ़ी है और हम इसके लिए लगातार जन जागरूकता अभियान भी चला रहे है।

 


डीसी यशेन्द्र सिंह ने वीसी में बताया कि कई बार नागरिक कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद अस्पताल में देरी से पहुंचता है जिसके कारण मृत्यु हो जाती है, इसलिए पॉजिटिव पाएं जाने पर उसे पल्स आक्सीमीटर अनिवार्य रूप से दे दिया जाए तो वह अपना ऑक्सीजन लेवल समय-समय पर चैक कर सकता है, फिर भी उसे कोई परेशानी होती है समय रहते अस्पताल में पहुंच सकता है। डीसी यशेन्द्र सिंह के इस सुझाव पर होम आइसोलेशन व कोविड केयर सैंटर में भर्ती हुए लोगों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जा रही कोविड केयर किट में अब आक्सीमीटर भी प्रदान किया जाएगा।

वीसी में एडीसी राहुल हुड्डा, एसडीएम रेवाडी रविन्द्र यादव, एसडीएम बावल मनोज कुमार, सीटीएम संजीव कुमार, डीएसपी अमित भाटिया, उप सिविल सर्जन डॉ अशोक व डॉ राजबीर, डॉ दीपक सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें